Dharm

शिव-शम्भू…

सनातन धर्म का पावन और पवित्र महीना जो देवों के देव का अतिप्रिय है. पौराणीक ग्रंथों के अनुसार, शिव जिसे “शव” भी कहा जाता है. इनकी महिमा बड़ी ही अनोखी और अद्भुत है. शिव जिसे अदिश या आदिदेव भी कहा जाता है. आदि का अर्थ होता है प्रारम्भ. या यूँ कहें कि, जहाँ से शुरुआत होती है. ऐसे आदिदेव की महिमा व रूप भी बड़ी ही अनोखी है.

वर्तमान समय में पूरी दुनिया के लोग महादेव के एक अनन्य रूप भगवान रामचंद्र की खोज में लगे हैं. जितना सनातन धर्म पावन और पवित्र है उतना ही इससे जुड़े किरदार भी पावन और पवित्र हैं. उनके कई चिन्ह आज भी कई जगहों पर मौजूद है. जिस प्रकार भगवान राम के कई प्रतीक व चिन्ह मौजूद है ठीक उसी प्रकार महादेव के प्रतीक व चरण चिन्ह भी मौजूद है आइए जानते हैं सर्वसुलभ भगवान के चरण चिन्हों के बारे में….

1.रुद्र पद: – तमिलनाडु के नागपट्टीनम जिले के थिरुवेंगडू क्षेत्र में श्रीस्वेदारण्येश्वहर का मंदिर में शिव के पदचिह्न हैं जिसे ‘रुद्र पदम’ कहा जाता है. इसके अलावा थिरुवन्नामलाई में भी एक स्थान पर शिव के पदचिह्न हैं.

  1. तेजपुर: – असम के तेजपुर में ब्रह्मपुत्र नदी के पास स्थित रुद्रपद मंदिर में शिव के दाएं पैर का निशान है.
  2. पहाड़ी बाबा मंदिर:- झारखंड के रांची रेलवे स्टेशन से 7 किलोमीटर की दूरी पर ‘रांची हिल’ पर शिवजी के पैरों के निशान है जिसे ‘पहाड़ी बाबा मंदिर’ भी कहा जाता है.
  3. श्रीपद मंदिर:- श्रीलंका में रतन द्वीप पहाड़ की चोटी पर स्थित श्रीपद मंदिर में शिव के पैरों के निशान हैं. यह पदचिह्न करीब 5 फुट 7 इंच लंबे और 2 फुट 6 इंच चौड़े हैं. इस स्थान को सिवानोलीपदम भी कहा जाता है.
  4. भीम के मंदिर के पास शिव के पदचिह्न:- उत्तराखंड के अल्मोड़ा से 36 किलोमीटर दूर जागेश्वर मंदिर की पहाड़ी से लगभग साढ़े 4 किलोमीटर दूर जंगल में भीम के मंदिर के पास शिव के पदचिह्न हैं. पांडवों को दर्शन देने से बचने के लिए उन्होंने अपना एक पैर यहां और दूसरा कैलाश में रखा था.

========= ========= ========= =====

  1. Rudra Padam:- In the temple of Sreesvedaranyeswarar in the Thiruvengadu area of Nagapattinam district of Tamil Nadu, there is a footprint of Shiva which is called ‘Rudra Padam’. Apart from this, there are footprints of Shiva at one place in Thiruvannamalai.
  2. Tezpur:- There is a mark of Shiva’s right foot in the Rudrapada temple located near the Brahmaputra river in Tezpur, Assam.
  3. Pahadi Baba Temple: – At a distance of 7 kilometers from Ranchi Railway Station of Jharkhand, there is a footprint of Lord Shiva on ‘Ranchi Hill’ which is also known as ‘Pahadi Baba Mandir’.
  4. Shreepad Temple: – The Shreepad Temple located on the top of Ratan Island mountain in Sri Lanka has the footprints of Shiva. This footprint is about 5 feet 7 inches long and 2 feet 6 inches wide. This place is also known as Sivanolipadam.
  5. Footprints of Shiva near the temple of Bhima:- There are footprints of Shiva near the temple of Bhima in the forest, about 4.5 km from the Jageshwar temple hill, 36 km from Almora in Uttarakhand. To avoid giving darshan to the Pandavas, he kept one foot here and the other in Kailash.
Rate this post
:

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!