News

याद आते वो पल-147.

  1. गोलकुंडा किले पर क़ब्जा: – आज ही के दिन वर्ष 1687 में औरंगजेब ने हैदराबाद के गोलकुंडा के किले पर कब्जा कर लिया था उस समय गोलकुंडा का शासक अबुल हसन कुतुब शाह हुआ करते थे.
  2. साहित्यकार श्रद्धाराम शर्मा: – आज ही के दिन वर्ष 1837 में “ओम जय जगदीश हरे” के रचयिता श्रद्धाराम शर्मा का जन्म पंजाब के जालंधर ज़िले में लुधियाना के पास एक गाँव ‘फ़िल्लौरी’ (फुल्लौर) के एक ब्राह्मण परिवार में हुआ था. उनके पिता का नाम जयदयालु था जो एक ज्योतिषी और धार्मिक प्रवृत्ति के थे. श्रद्धाराम को बचपन से ही धार्मिक संस्कार विरासत में मिला था. श्रद्धाराम जब केवल सात वर्ष के थे उस वक्त उन्होंने  गुरुमुखी लिपि सीख ली थी. दस वर्ष की अवस्था में उन्होंने संस्कृत, हिन्दी, फ़ारसी, पर्शियन (पारसी) तथा ज्योतिष आदि की पढ़ाई शुरू की और कुछ ही वर्षों में महारत हासिल कर ली थी. उन्नीसवीं शताब्दी के श्रेष्ठ साहित्यकारों में श्रद्धाराम शर्मा की गिनती होती थी. श्रद्धाराम शर्मा की पहली ही पुस्तक ‘सिखों दे राज दी विधियाँ’ से वे पंजाबी साहित्य के पितृ पुरुष के रूप में प्रतिष्ठित हो गए थे साथ ही उनको “आधुनिक पंजाबी भाषा के जनक” की भी उपाधि मिली थी. पंडित श्रद्धाराम का  गुरुमुखी और हिन्दी साहित्य में महत्त्वपूर्ण योगदान रहा है. उन्होंने 32 वर्ष की उम्र में  ‘ओम जय जगदीश हरे’ आरती की रचना की थी साथ ही खुद उनको गए कर सुनते भी थे. जिसे सुनकर लोग बेसुध हो जाते थे. बताते चलें कि, पंडित श्रद्धाराम शर्मा को भारत के प्रथम उपन्यासकार के रूप में भी जाना जाता है.
  3. साहित्यकार गुरुजाडा अप्पाराव: – आज ही के दिन वर्ष 1861 में तेलुगु साहित्यकार गुरुजाडा अप्पाराव का जन्म आन्ध्र प्रदेश के विशाखापत्तनम क्षेत्र में हुआ था. उनके पिता का नाम वेंकटरामदास है जो वेदान्त तथा ज्योतिष के ज्ञाता थे. अप्पाराव की प्रारम्भिक शिक्षा घर पर ही हुई थी. उन्होंने जाति भेद , वर्ण भेद, आदि का हमेशा ही विरोध करते थे साथ ही उन्हें धर्म के ब्रह्माचार और मूर्ति पूजा में भी  उनका विश्वास नहीं था. उन्होंने कई पुस्तके लिखी जिनमें वर्ष 892 में लिखा गया ‘कन्याशुलकम्’ सबसे लोकप्रिय है.
  4. अभिनेता मदन पुरी: – आज ही के दिन वर्ष 1915 में अभिनेता मदन पुरी का जन्म पठाणकोट में हुआ था. उनके पिता का नाम निहाल चंद पुरी और माता का नाम वेद कौर था. उनके भाई का नाम अमरीश पुरी है. मदन पूरी ने अपने अभिनय कैरियर की शुरुआत हीरो बनने से की थी लेकिन उनकी सभी फ़िल्में पिट गई. जब उन्होंने विलेन के रोल किये तो उन्हें सफलता मिली थी. मदन पूरी ने अपने ५० साल के कैरियर में करीब 430 से भी ज्‍यादा फिल्मों में काम किया था.
  5. निर्माता एवं निर्देशक ऋषिकेश मुखर्जी:- आज ही के दिन वर्ष 1922 में निर्माता एवं निर्देशक ऋषिकेश मुखर्जी का जन्म कोलकाता में हुआ था. ऋषिकेश मुखर्जी ने अपने फ़िल्मी कैरियर की शुरुआत वर्ष 1951 में फिल्म “दो बीघा ज़मीन” फ़िल्म में बिमल राय के सहायक के रूप में किया था. ऋषिकेश ने अपने निर्देशन के कैरियर की शुरुआत वर्ष 1957 में फिल्म “मुसाफिर” से की थी.   वर्ष 1961 में ऋषिकेश मुखर्जी की फ़िल्म “अनुराधा” को राष्ट्रीय फ़िल्म पुरस्कार से सम्मानित किया गया था.
  6. स्वतंत्रता सेनानी रामानन्द चैटर्जी: आज ही के दिन वर्ष 1943 में स्वतंत्रता सेनानी रामानन्द चैटर्जी का निधन कोलकत्ता में हुआ था.
  7. पार्श्व गायक शान: – आज ही के दिन वर्ष 1962 में पार्श्व गायक शान का जन्म मध्य प्रदेश के खंडवा में एक संगीतज्ञ परिवार में हुआ था. शान का पूरा नाम शांतनु मुखर्जी है. उनके पिता का नाम मानस मुखर्जी है जो एक एक संगीत निर्देशक थे वहीँ उनके दादा जाहर मुखर्जी भी एक संगीतकार थे. शान की बहन सागरिका भी पार्श्व गायिका हैं. शान ने अपने बचपन में ही ऐड की जिंगल्स बनाना शुरू कर कर दिए थे. शान हिंदी गानों के अलावा कन्नड़, तमिल, बंगाली, पंजाबी, मराठी, उर्दू तेलगु में भी पार्श्व गायन करते हैं. शान ने अपने पर्श्वगायकी के कैरियर की शुरुआत आरडी बर्मन के गाने ‘रूप तेरा मस्ताना.. ’का रीमिक्स गाने से की थी.
  8. अभिनेत्री दीपती भटनागर: – आज ही के दिन वर्ष 1967 में अभिनेत्री दीपती भटनागर का जन्म  मेरठ में हुआ था. दीप्ति वर्ष1990 में मिस इंडिया भी बनी थीं. दीपती भटनागर ने अपने अभिनय कैरियर की शुरुआत ‘राम शस्त्र’ से की थी.
  9. खिलाड़ी दीपा मलिक:- आज ही के दिन वर्ष 1970 में भारत की शॉटपुट एवं जेवलिन थ्रो की खिलाड़ी दीपा मलिक का जन्म भैंसवाल, सोनीपत, हरियाणा में हुआ था.
  10. अभिनेत्री बिदिता बाग़: – आज ही के दिन वर्ष 1991 में अभिनेत्री बिदिता बाग़ का जन्म पश्चिम बंगाल के हावड़ा, संतरागाछी में हुआ था. बिदिता ने अपनी प्रारम्भिक शिक्षा कोलकाता से सम्पन्न की है. बिदिता बैग ने अपने कैरियर की शुरुआत मॉडलिंग से की थी. उन्होंने हिंदी फिल्म में अपने अभिनय कैरियर की शुरुआत एक्स-पास्ट इज प्रेजेंट से शुरू कर रहीं हैं.
  11. विनाशकारी भूकंप: – आज ही के दिन वर्ष 1993 में महाराष्ट्र के लातूर में भयानक भूकंप आया था जिसकी तीव्रता रिक्टर स्केल पर 2 दर्ज की गयी थी. इस विनाशकारी भूकंप के कारण 10 हजार से अधिक लोग मारे गए एवं लाखों बेघर हो गए थे.
  12. कवियित्री सुमित्रा कुमारी सिन्हा: आज ही के दिन वर्ष 1994 में कवियित्री सुमित्रा कुमारी सिन्हा का निधन हुआ था.
  13. राजनीतिज्ञ माधव राव सिंधिया: आज ही के दिन वर्ष 2001 में कांग्रेसी नेता माधव राव सिंधिया का मैनपुरी में वायुयान दुर्घटना में निधन हुआ था.
  14. पार्श्व गायक मन्ना डे: – आज ही के दिन वर्ष 2009 में पार्श्व गायक मन्ना डे को दादा साहब फाल्के पुरस्कार 2007 के लिए चुना गया था.

========== ========== ===========

Remember Those Moments-147.

  1. Capture of Golconda Fort: – On this day in the year 1687, Aurangzeb captured the Golconda Fort of Hyderabad. At that time, the ruler of Golconda was Abul Hasan Qutb Shah.
  2. Litterateur Shraddharam Sharma: – On this day in the year 1837, Shraddharam Sharma, the author of “Om Jai Jagdish Hare”, was born in a Brahmin family of ‘Phillauri’ (Phullaur), a village near Ludhiana in Jalandhar district of Punjab. His father’s name was Jaydayalu he was an astrologer and religious person. Shraddharam had inherited religious values since childhood. When Shraddharam was only seven years old, he learned the Gurmukhi script. At the age of ten, he started studying Sanskrit, Hindi, Persian, Persian astrology etc. and mastered it within a few years. Shraddharam Sharma was counted among the best litterateurs of the nineteenth century. With Shraddharam Sharma’s very first book ‘Sikhon De Raj Di Vithiya’, he became established as the patriarch of Punjabi literature and also got the title of “Father of Modern Punjabi Language”. Pandit Shraddharam has made a significant contribution to Gurmukhi and Hindi literature. At the age of 32, he composed ‘Om Jai Jagdish Hare’ Aarti and also used to listen to it himself. People used to become unconscious after hearing this. Let us tell you that Pandit Shraddharam Sharma is also known as the first novelist of India.
  3. Writer Gurujada Apparao: – On this day in the year 1861, Telugu litterateur Gurujada Apparao was born in the Visakhapatnam region of Andhra Pradesh. His father’s name is Venkataramdas he was an expert in Vedanta and astrology. Apparao’s primary education was at home. He always opposed caste discrimination, varna discrimination, etc. and he also did not believe in celibacy and idol worship of religion. He wrote many books, of which ‘Kanyashulkam’ written in the year 892 is the most popular.
  4. Actor Madan Puri: – On this day in the year 1915, actor Madan Puri was born in Pathankot. His father’s name was Nihal Chand Puri and his mother’s name was Ved Kaur. His brother’s name is Amrish Puri. Madan Puri started his acting career by becoming a hero, but all his films flopped. He got success when he played villain roles. Madan Puri has worked in more than 430 films in his career spanning 50 years.
  5. Producer and director Hrishikesh Mukherjee: – On this day in the year 1922, producer and director Hrishikesh Mukherjee was born in Kolkata. Hrishikesh Mukherjee started his film career in the year 1951 as an assistant to Bimal Roy in the film “Do Bigha Zameen”. Hrishikesh started his directorial career in the year 1957 with the film “Musafir”. In the year 1961, Hrishikesh Mukherjee’s film “Anuradha” was honoured with the National Film Award.
  6. Freedom fighter Ramanand Chatterjee: – On this day in the year 1943, freedom fighter Ramanand Chatterjee died in Kolkata.
  7. Playback singer Shaan: – On this day in the year 1962, playback singer Shaan was born in a musician family in Khandwa, Madhya Pradesh. Shaan’s full name is Shantanu Mukherjee. His father’s name is Manas Mukherjee who was a music director while his grandfather Jahar Mukherjee was also a musician. Shaan’s sister Sagarika is also a playback singer. Shaan started making ad jingles in his childhood itself. Apart from Hindi songs, Shaan also does playback singing in Kannada, Tamil, Bengali, Punjabi, Marathi, Urdu and Telugu. Shaan started his playback singing career by singing the remix of RD Burman’s song ‘Roop Tera Mastana..’.
  8. Actress Deepati Bhatnagar: – On this day in the year 1967, actress Deepati Bhatnagar was born in Meerut. Deepti also became Miss India in the year 1990. Deepti Bhatnagar started her acting career with ‘Ram Shastra’.
  9. Player Deepa Malik: – On this day in the year 1970, Indian shot put and javelin throw player Deepa Malik was born in Bhainswal, Sonipat, Haryana.
  10. Actress Bidita Bagh: – On this day in the year 1991, actress Bidita Bagh was born in Howrah, Santragachi, West Bengal. Bidita completed her primary education in Kolkata. Bidita Bag started her career with modelling. She is starting her acting career in Hindi film with X-Past is Present.
  11. Devastating earthquake: – On this day in the year 1993, a terrible earthquake occurred in Latur, Maharashtra, whose intensity was recorded at 6.2 on the Richter scale. Due to this devastating earthquake, more than 10 thousand people died, and lakhs were rendered homeless.
  12. Poet Sumitra Kumari Sinha: – On this day in the year 1994, poet Sumitra Kumari Sinha died.
  13. Politician Madhav Rao Scindia: – On this day in 2001, Congress leader Madhav Rao Scindia died in a plane crash in Mainpuri.
  14. Playback singer Manna Dey: – On this day in the year 2009, playback singer Manna Dey was selected for the Dadasaheb Phalke Award 2007.
Rate this post
:

Related Articles

Back to top button