Article

व्यक्ति विशेष

भाग - 08.

परमहंस योगानन्द

परमहंस योगानंद एक भारतीय योगी और ध्यानिक थे, जो अपने उपदेशों और कार्यों के माध्यम से विश्व भर में ध्यान और योग के प्रचार-प्रसार का कार्य करने के लिए प्रसिद्ध हुए थे। उनका जन्म 05 जनवरी 1893 को हुआ था और मृत्यु 7 मार्च 1952 को हुई थी।

योगानंदा ने अपने जीवन को योग और वेदांत के अध्ययन में समर्पित किया और उन्होंने अपनी शिक्षाएं भारतीय सांस्कृतिक एवं धार्मिक तत्त्वों के प्रमोशन के लिए ब्रह्मा-कुमारिस और सेल्फ-रियायलाइजेशन फेलोशिप के माध्यम से विदेश में भी प्रसार किया।

उनका प्रमुख कृति, ‘आत्मकथा एक योगी’ (Autobiography of a Yogi), विश्व भर में प्रसिद्ध हुआ और योग और ध्यान के प्रशंसकों के बीच में एक महत्वपूर्ण ग्रंथ बन गया।

योगानंदा ने अपने शिष्यों को “सेल्फ-रियायलाइजेशन फेलोशिप” की स्थापना करने के लिए प्रेरित किया, जो उनके उपदेशों को फैलाने और योगानंदा के विचारों को जिवंत रखने का कार्य करता है।

==========  =========  ===========

स्वतंत्रता सेनानी बारींद्रनाथ घोष

बारींद्रनाथ घोष भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के एक प्रमुख सेनानी और पत्रकार थे। उनका जन्म 05 जनवरी 1880 को हुआ था। उन्होंने अपने जीवन में स्वतंत्रता संग्राम में अद्वितीय भूमिका निभाई और समाज में जागरूकता फैलाने का कार्य किया।

बारींद्रनाथ घोष का पत्रकारिता क्षेत्र में भी महत्त्वपूर्ण योगदान रहा। उन्होंने विभिन्न पत्रिकाओं में लेखन किया और लोगों को स्वतंत्रता संग्राम के बारे में जागरूक किया। उन्होंने अखिल भारतीय पत्रकार सम्मेलन का आयोजन भी किया था।

स्वतंत्रता संग्राम के समय, बारींद्रनाथ घोष ने बड़ी संख्या में लोगों को जागरूक करने और संघर्ष करने में अपना योगदान दिया। उन्होंने बंगाल के स्वतंत्रता संग्राम में भी भाग लिया और ब्रिटिश साम्राज्य के खिलाफ समर्थन जताया।

बारींद्रनाथ घोष का नाम भारतीय इतिहास में एक महत्वपूर्ण स्थान रखा जाता है, और उन्हें स्वतंत्रता सेनानी और पत्रकार के रूप में याद किया जाता है।

==========  =========  ===========

राजनीतिज्ञ मुरली मनोहर जोशी

मुरली मनोहर जोशी एक भारतीय राजनीतिज्ञ हैं जो भारतीय राजनीति में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका के लिए पहचाने जाते हैं। उनका जन्म 05 जनवरी 1934 को उत्तर प्रदेश के नैनीताल जिले के एक छोटे से गाँव में हुआ था।

मुरली मनोहर जोशी ने अपनी शिक्षा को विभिन्न स्तरों पर पूरा किया और इन्होंने गोरखपुर विश्वविद्यालय से गणित में स्नातक की डिग्री हासिल की। उन्होंने फिर इंडियन इनस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (IIT) खड़गपुर से फिजिक्स में मास्टर्स की डिग्री प्राप्त की और इसके बाद जर्मनी के इनस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी से डॉक्टरेट अर्थात डॉक्टरी एकाधिकार की डिग्री प्राप्त की।

जोशी ने अपनी राजनीतिक कैरियर की शुरुआत विभिन्न विद्यार्थी संघों में कियी और उन्होंने अपने समर्थन के लिए बहुत से अभियानों में भाग लिया। उन्होंने भारतीय जनता पार्टी के साथ मिलकर अपने राजनीतिक कैरियर की शुरुआत की और कई बार से लोकसभा सदस्य चुने जाने का गर्व हासिल किया।

मुरली मनोहर जोशी ने कई महत्वपूर्ण पदों पर काम किया है, जैसे कि मानव संसाधन विकास मंत्री, कृषि मंत्री, और मानव संसाधन विकास मंत्री। उन्होंने विज्ञान और तकनीक के क्षेत्र में अपने योगदान के लिए भी प्रसिद्ध हैं।

==========  =========  ===========

क्रिकेट खिलाड़ी मंसूर अली ख़ान पटौदी

मंसूर अली ख़ान पटौदी, भारतीय क्रिकेट के एक लोकप्रिय और सम्मानित खिलाड़ी थे। उनका जन्म 05 जनवरी 1941 को हुआ था और उनकी मृत्यु 22 सितंबर 2005 को हुई थी। मंसूर अली ख़ान ने भारतीय क्रिकेट को अपने अद्वितीय खेल शैली और नेतृत्व के लिए जाना जाता है।

मंसूर अली ख़ान ने भारतीय टेस्ट क्रिकेट टीम के कप्तान के रूप में कई महत्वपूर्ण क्षणों को अनुभव किया। उन्होंने 1960-61 से 1969-70 तक भारतीय टीम का कप्तानी का कार्य निभाया और उस समय भारतीय क्रिकेट को उनके नेतृत्व में मजबूती मिली।

मंसूर अली ख़ान का सबसे यादगार क्षण उनके 1967-68 के दौरे इंग्लैंड में हुआ, जहां उनकी टीम ने ऑस्ट्रेलिया को हराकर इतिहास रचा। यह भारत के लिए पहली बार इंग्लैंड में जीती गई टेस्ट सीरी थी।

मंसूर अली ख़ान को 1967 में पद्मश्री से नवाजा गया और 1968 में भारत सरकार ने उन्हें अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित किया। उन्हें क्रिकेट के क्षेत्र में उनके योगदान के लिए बहुत से सम्मान और पुरस्कार भी मिले।

मंसूर अली ख़ान का खेल कैरियर समाप्त होने के बाद उन्होंने क्रिकेट के कोच और उत्कृष्टता के क्षेत्र में भी अपनी सेवाएं दीं। उनका नाम भारतीय क्रिकेट के एक महत्वपूर्ण और समर्थ नेतृत्व के रूप में सदैव याद किया जाएगा।

==========  =========  ===========

राजनीतिज्ञ ममता बनर्जी

ममता बनर्जी, एक भारतीय राजनीतिक थी जो पश्चिम बंगाल राज्य की मुख्यमंत्री है। उनका जन्म 5 जनवरी 1955 को हुआ था। ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल में राजनीति की शुरुआत छात्र संघ के सदस्य के रूप में की और बाद में इंडियन नेशनल कांग्रेस (INC) में शामिल हो गईं।

उन्होंने 1984 में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस (TMC) पार्टी की स्थापना की और इस पार्टी के नेता बनीं। उन्होंने पश्चिम बंगाल में हो रही राजनीतिक परिस्थितियों में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई और कई बार पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री चुनी गईं।

ममता बनर्जी ने 2011 में पश्चिम बंगाल में हुई विधानसभा चुनावों में भारतीय तृणमूल कांग्रेस (TMC) के मुख्यमंत्री बनने के बाद से पश्चिम बंगाल के प्रमुख नेता बनीं हैं। उन्होंने 2016 और 2021 में भी पुनः इस पद की जीत दर्ज की है।

उनकी राजनीतिक प्रक्रिया और उनकी विशेष शैली ने उन्हें सामाजिक और राजनीतिक दृष्टिकोण से महत्वपूर्ण बना दिया है।

==========  =========  ===========

साहित्यकार अशोक कुमार शुक्ला

साहित्यकार अशोक कुमार शुक्ला  एक भारतीय हिंदी साहित्यकार हैं। उनका जन्म 05 जनवरी 1967  को पौड़ी गढ़वाल, उत्तराखंड में पैदा हुए थे।

अशोक कुमार शुक्ला का साहित्यिक योगदान मुख्यतः कविता रूप में है, और उनकी कविताएं विभिन्न साहित्यिक पत्रिकाओं और साहित्यिक संगठनों में प्रकाशित होती हैं। उनकी रचनाएं आम जनता के बीच पहुंचने वाली सामाजिक और राजनीतिक मुद्दों पर आधारित होती हैं।

अशोक कुमार शुक्ला की रचनाओं में उनकी भावनात्मकता, साहित्यिक सौंदर्य, और समाजशास्त्रीय पहलुओं को महत्वपूर्ण माना जाता है। उनका साहित्य व्यक्तिगत और सामाजिक समस्याओं को छूने का प्रयास करता है।

==========  =========  ===========

अभिनेत्री दीपिका पादुकोण

दीपिका पादुकोण एक भारतीय फिल्म अभिनेत्री है जो अपने उच्च-प्रोफाइल और सफलतम कार्यों के लिए जानी जाती है। उनका जन्म 5 जनवरी 1986 को कर्नाटक, भारत में हुआ था। वह एक स्पोर्ट्समैन के परिवार से हैं, और उनके पिता प्रकाश पादुकोण एक पूर्व बैडमिंटन खिलाड़ी हैं।

दीपिका पादुकोण ने अपनी अभिनय कैरियर की शुरुआत 2006 में हिन्दी फिल्म “आइश्वर्या” से की थी, लेकिन उनका असली ब्रेकथ्रू मोमेंट 2007 में हुआ जब उन्होंने ओम शांति ओम के साथ दीपिका पादुकोण के स्टार के रूप में सुपरहिट फिल्म में काम किया। इसके बाद, उन्होंने कई हिट फिल्मों में अभिनय किया है, जैसे कि “बच्चन ऐत्रान”, “चेन्नई एक्सप्रेस”, “पद्मावत” और “पिक्सेल”।

दीपिका पादुकोण ने अपने कैरियर में कई पुरस्कार भी जीते हैं और उन्हें बॉलीवुड की टॉप अभिनेत्रियों में से एक माना जाता है। उनकी खूबसूरती, अभिनय क्षमता और पेशेवरिकता के लिए उन्हें बड़ा सम्मान मिला है।

==========  =========  ===========

महिला निशानेबाज़ अंजुम मौदगिल

अंजुम मौदगिल एक प्रमुख भारतीय निशानेबाज़ हैं जो अपने देश को अंतरराष्ट्रीय पैम्प में प्रतिष्ठान दिलाने में अपनी कला और प्रतिबद्धता के लिए पहचान बना रखी हैं। वह शूटिंग के कई अनुष्ठानों में भारतीय ध्वज को गर्व से लहराती हैं।

अंजुम मौदगिल का जन्म 5 जनवरी 1983 को हुआ था और उन्होंने अपने कैरियर की शुरुआत छोटी आयु में की थी। उन्होंने अपनी पहचान को स्थापित करने में कई राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में शानदार प्रदर्शन किया है।

मौदगिल ने 2018 की कॉमनवेल्थ गेम्स में स्वर्ण पदक जीतकर भारत का मान बढ़ाया और उन्होंने एशियाई खेलों में भी सफलता प्राप्त की है। उन्होंने अपने समर्पण और कौशल के लिए कई पुरस्कारों से भी सम्मानित किया गया है।

अंजुम मौदगिल ने भारत को शूटिंग में अंतरराष्ट्रीय मानकों में उच्च स्थान पर ले जाने में अपना योगदान दिया है और उनका नाम भारतीय खेल के इतिहास में महत्वपूर्ण है।

: [responsivevoice_button voice="Hindi Female"]

Related Articles

Back to top button