Dharm

इंदिरा एकादशी

इंदिरा एकादशी 2023: धार्मिक मान्यताओं में इंदिरा एकादशी विशेष महत्व रखती है। वहीं, हर साल आश्विन मास के कृष्ण पक्ष की एकादशी तिथि को इंदिरा एकादशी का व्रत रखा जाता है। पितृ पक्ष के दौरान पड़ने वाली एकादशी विशेष रूप से फलदायक होती है। इंदिरा एकादशी के दिन विधिवत विष्णु भगवान की पूजा-अर्चना की जाती है। ऐसी मान्यता है कि इंदिरा एकादशी के दिन व्रत रखने और विष्णु भगवान की पूजा-अर्चना करने से सभी मनोकामनाएं पूरी की जा सकती हैं। वहीं, इस साल इंदिरा एकादशी को लेकर कन्फ्यूजन की स्थिति बनी हुई है। इसलिए आइए जानें इंदिरा एकादशी की सही डेट, शुभ मुहूर्त, पूजा की विधि और व्रत पारण का सही समय-

इंदिरा एकादशी कब है?

आश्विन मास के कृष्ण पक्ष की एकादशी तिथि 9 अक्टूबर को दोपहर 12:36 से प्रारंभ होगी, जो 10 अक्टूबर की दोपहर 3:08 तक रहेगी। उदया तिथि के चलते, 10 अक्टूबर के दिन एकादशी का व्रत रखना मान्य होगा।

शुभ मुहूर्त

एकादशी तिथि की शुरुआत- 12:36 पी एम, अक्टूबर 09, 2023
एकादशी तिथि समाप्त – 03:08 पी एम, अक्टूबर 10, 2023
व्रत पारण समय- 11 अक्टूबर, 06:19 ए एम से 08:38 ए एम तक
पारण तिथि के दिन द्वादशी समाप्त होने का टाइम- 05:36 पी एम

एकादशी पूजा विधि

  1. स्नान आदि कर मंदिर की साफ सफाई करें
  2. भगवान श्री हरि विष्णु का जलाभिषेक करें
  3. प्रभु का पंचामृत सहित गंगाजल से अभिषेक करें
  4. अब प्रभु को पीला चंदन और पीले पुष्प अर्पित करें
  5. मंदिर में घी का दीपक प्रज्वलित करें
  6. संभव हो तो व्रत रखें और व्रत लेने का संकल्प करें
  7. इंदिरा एकादशी की व्रत कथा का पाठ करें
  8. ॐ नमो भगवते वासुदेवाय मंत्र का जाप करें
  9. पूरी श्रद्धा के साथ भगवान श्री हरि विष्णु और लक्ष्मी जी की आरती करें
  10. प्रभु को तुलसी दल सहित भोग लगाएं
  11. अंत में क्षमा प्रार्थना करें
  12. इंदिरा एकादशी के दिन लक्ष्मी माता की पूजा करने से विशेष फल की प्राप्ति होती है।

:

Related Articles

Back to top button