News

याद आते वो पल-54.

  1. बीमार व्यवहार के खिलाफ अपना आंदोलन शुरू किया:- आज ही के दिन वर्ष 1855 में राजमहल हिल्स, संथाल-परगना, बिहार के संथालों ने बंगाली के भोरनधेजी में सिंधु और कान्हू के नेतृत्व में अंग्रेजों, राजस्व अधिकारियों, पुलिस, जमींदारों और साहूकारों द्वारा किए जा रहे बीमार व्यवहार के खिलाफ अपना आंदोलन शुरू किया.
  2. राजनीतिज्ञ मुकुट बिहारी लाल भार्गव :- आज ही के दिन वर्ष 1903 में राजनीतिज्ञ मुकुट बिहारी लाल भार्गव का जन्म राजस्थान की उदयपुर रियासत में हुआ था. इलाहाबाद विश्वविद्यालय से एम. ए. और एल. एल. बी. करने के बद उन्होंने वर्ष 1927 में बेवर में वकालत शुरू की. सी. आर. दास, मोतीलाल नेहरू और महात्मा गाँधी के प्रभाव से वे राजबंदियों के मुकदमे निर्भय होकर अपने हाथ में लिया करते थे. वर्ष 1930 में वे कांग्रेस में सम्मिलित हो गये. प्राचीन भारतीय सभ्यता और संस्कृति के समर्थक भार्गव जी लोक सभा में प्रभावशाली वक्ता के रूप में जाने जाते थे. वर्ष 1946 में मुकुट बिहारी लाल भार्गव केंद्रीय असेम्बली और संविधान सभा के सदस्य चुने गए थे. स्वतंत्रता के बाद उन्होंने तीन चुनावों में अजमेर निर्वाचन क्षेत्र का लोक सभा में प्रतिनिधित्व किया.
  3. पहली बार गिरफ्तार किया गया:- आज ही के दिन वर्ष 1914 में दक्षिण अफ्रीका में भारतीयों के अधिकारों के लिये आंदोलन करने के दौरान राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को पहली बार गिरफ्तार किया गया.
  4. राजनेता, उद्योगपति, शिक्षाविद और विचारक दादा भाई नौरोजी:- आज ही के दिन वर्ष 1917 में दादा भाई नौरोजी का निधन हुआ था. ब्रिटिशकालीन भारत के एक पारसी बुद्धिजीवी, शिक्षाशास्त्री, कपास के व्यापारी तथा आरम्भिक राजनैतिक एवं सामाजिक नेता थे. दादाभाई नौरोजी को भारत के ग्रैंड ओल्ड मैन के रूप में जाना जाता है. वर्ष 1892-95 के बीच यूनाइटेड किंगडम हाउस ऑफ कॉमन्स में संसद (सांसद) के सदस्य थे, और ब्रिटिश सांसद बनने वाले पहले एशियाई थे.
  5. साहित्यकार एवं आलोचक रघुवंश सहाय :- आज ही के दिन वर्ष 1921 में साहित्यकार एवं आलोचक रघुवंश का जन्म उत्तर प्रदेश में हरदोई ज़िला के गोपामऊ कस्बे में हुआ था. उनके दोनों हाथ जन्म से अपंग थे. रघुवंश ने अपने मन में ये संकल्प कर लिया था कि वे अपनी अपंगता को अपनी कमजोरी नहीं बनने देंगे और उन्होंने अपने पैर से लिखना शुरू कर दिया. उनके जीवन में अनेक विपरीत परिस्थितिया आयीं लेकिन वह निरंतर आगे बढ़ते ही रहे और उन्होंने पैर से लिखने में महारथ हासिल ली. इलाहाबाद विश्वविद्यालय से उन्होंने हिंदी भाषा में एम.ए और हिंदी साहित्य के ‘भक्ति और रीतिकाल में प्रकृति और काव्य’ विषय पर डी.फिल किया था. प्रोफेसर रघुवंश को वर्ष 2008 का ‘मूर्ति देवी पुरस्कार’ मिला था.
  6. संगीतकार कल्याण जी: आज ही के दिन वर्ष 1928 में संगीतकार कल्याण जी का जन्म गुजरात के कच्छ ज़िले में कुण्डरोडी नामक स्थान पर हुआ था. इनके पिता का नाम वीरजी शाह था. कल्याणजी बचपन से ही संगीतकार बनने का सपना देखा करते थे. हालांकि उन्होंने किसी उस्ताद से संगीत की शिक्षा नहीं ली थी. कल्याणजी ने हेमंत कुमार के सहायक के तौर पर फ़िल्मी दुनिया में कदम रखा था और वर्ष 1954 में फ़िल्म ‘नागिन’ के गीतों के कुछ छंद संगीतबद्ध किए थे. भारतीय फ़िल्मों में इलेक्ट्रॉनिक संगीत की शुरुआत करने का श्रेय भी कल्याणजी को ही जाता है. कल्याणजी-आनंदजी की जोड़ी ने लगातार तीन दशकों वर्ष 1960, 1970 और 1980 तक हिन्दी सिनेमा पर राज किया. वर्ष1974 में प्रदर्शित फ़िल्म ‘कोरा काग़ज़’ के लिए भी कल्याणजी आनंदजी को सर्वश्रेष्ठ संगीतकार का ‘फ़िल्म फेयर पुरस्कार’ मिला. कल्याणजी ने अपने सिने करियर में लगभग 250 फ़िल्मों में संगीत दिया.
  7. वैज्ञानिक सी. एन. आर. राव:- आज ही के दिन वर्ष 1934 में वैज्ञानिक सी. एन. आर. राव का जन्म बंगलौर के एक कन्नड़ परिवार में हुआ था. वे अपने माता-पिता नागेश और नागम्मा राव की एकमात्र संतान हैं. उन्हें शुरू से अच्छे संस्कार और पढ़ाई का वातावरण मिला. बासवनागुडी में ‘आचार्य हाईस्कूल’ में पढ़ते हुए उनकी रुचि रसायन विज्ञान की ओर हुई. संस्कृत और अंग्रेज़ी भाषा पर भी उनका अच्छा अधिकार है.उन्होंने केवल सत्रह साल की उम्र में ‘मैसूर विश्वविद्यालय’ से बीएससी की डिग्री हासिल कर ली थी. विज्ञान के क्षेत्र में भारत की नीतियों को गढ़ने में अहम भूमिका निभाने वाले राव, प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की वैज्ञानिक सलाहकार परिषद के भी सदस्य थे. प्रोफेसर राव सॉलिड स्टेट और मैटेरियल केमिस्ट्री में अपनी विशेषज्ञता की वजह से जाने जाते हैं. उन्होंने पदार्थ के गुणों और उनकी आणविक संरचना के बीच बुनियादी समझ विकसित करने में अहम भूमिका निभाई है.
  8. बाउंडरी कमीशन के सदस्यों की घोषणा:- आज ही के दिन वर्ष 1947 में भारत के विभाजन की घोषणा के बाद बंगाल और पंजाब के विभाजन के लिए बाउंडरी कमीशन के सदस्यों की घोषणा की गई.
  9. राजनीतिज्ञ हरिवंश नारायण सिंह:- आज ही के दिन वर्ष 1956 में राजनीतिज्ञ हरिवंश नारायण सिंह का जन्म हुआ था.
  10. ताशकंद समझौते:- आज ही के दिन वर्ष 1965 में भारत और पाकिस्तान के बीच संयुक्त राष्ट्र के तत्वावधान में संघर्ष विराम पर सहमति बनी, जिन्होंने कच्छ के रण में युद्ध को रोकने के लिए संधि पर हस्ताक्षर किए. संयुक्त राज्य अमेरिका और सोवियत संघ ने दो दक्षिण एशियाई देशों के बीच संघर्ष में किसी भी आगे की वृद्धि को रोकने के लिए महत्वपूर्ण राजनयिक साधनों का उपयोग किया। प्रीमियर एलेक्सी कोश्यिन के नेतृत्व में सोवियत संघ ने ताशकंद (अब उजबेकिस्तान में) में संघर्ष विराम वार्ता की मेजबानी की, जहां भारतीय प्रधान मंत्री लाल बहादुर शास्त्री और पाकिस्तानी राष्ट्रपति अयूब खान ने ताशकंद समझौते पर हस्ताक्षर किए.
  11. राजनीतिज्ञ भूपेन्द्र यादव:- आज ही के दिन वर्ष 1969 में राजनीतिज्ञ भूपेन्द्र यादव का जन्म जमालपुर, गुरुग्राम (हरियाणा) में हुआ था.राज्यसभा सदस्य भूपेन्द्र यादव मोदी सरकार में यादव समुदाय से पहले कैबिनेट मंत्री हैं.
  12. आशा देवी आर्यनायकम:- आज ही के दिन वर्ष 1970 में आशा देवी आर्यनायकम का निधन हुआ था. आर्यनायकम एक समर्पित महिला थीं जिन्होंने अनभिज्ञता को दूर करने और ज्ञान, प्रेम और विश्वास से भरी दुनिया बनाने की कोशिश की.
  13. असम में लगाया गया राष्ट्रपति शासन:- आज ही के दिन वर्ष 1981 में राष्ट्रपति शासन भारत के संविधान के अनुच्छेद 356 को संदर्भित करता है जो एक भारतीय राज्य की संवैधानिक मशीनरी की विफलता से संबंधित है. इस घटना में कि किसी राज्य में सरकार संविधान के अनुसार कार्य करने में सक्षम नहीं है, राज्य केंद्र सरकार के प्रत्यक्ष नियंत्रण में आता है, कार्यकारी प्राधिकारी के बजाय एक निर्वाचित मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में मंत्रिपरिषद के बजाय राज्यपाल के माध्यम से प्रयोग किया जाता है.
  14. चित्रकार के. एच. आरा:- आज ही के दिन वर्ष 1985 में चित्रकार के. एच. आरा का निधन हुआ था.
  15. मिजोरम भारत का राज्य बना:- आज ही के दिन वर्ष 1986 में मिज़ोरम पूर्वोत्तर भारत के राज्यों में से एक है, जिसकी राजधानी आइज़ॉल के रूप में है. यह नाम Mi (लोगों), Zo (मिज़ोरम / लुशाई हिल्स के लोगों के साथ संबंध) और राम (भूमि) से लिया गया है, और इस प्रकार मिज़ोरम का अर्थ है “पहाड़ी लोगों की भूमि”.
  16. अभिनेत्री अविका गोर:- आज ही के दिन वर्ष 1997 में अविका गोर का जन्म मुंबई में एक गुजराती परिवार में हुआ था. उनके पिता समीर गौर एक इन्वेस्टमेंट-इंसोरेंस एजेंट हैं वहीँ, उनकी माँ चेतना गौर एक गृहणी हैं. अविका ने अपनी शुरूआती रेयान इंटरनेशनल स्कूल मुंबई से की है. अविका ने अपने कैरियर की शुरुआत टेलीविजन शोज़ से की थी परन्तु पर्दे पर पहचान कलर्स के शो से मिली थी.
  17. लद्दाख स्वायत्त पहाड़ी विकास परिषद:- आज ही के दिन वर्ष 2000 में लद्दाख स्वायत्त पहाड़ी विकास परिषद अधिनियम 1995 के तहत परिषद बनाया गया था, लेह जिले को जम्मू और कश्मीर के बाकी हिस्सों के साथ धार्मिक और सांस्कृतिक मतभेदों के कारण लेह जिले को एक नया भारतीय केंद्र शासित प्रदेश बनाने की मांग की गई.
  18. राजनीतिज्ञ साहिब सिंह वर्मा:- आज ही के दिन वर्ष 2007 में राजनीतिज्ञ साहिब सिंह वर्मा का निधन हुआ था. साहिब सिंह वर्मा  भारतीय जनता पार्टीके उपाध्यक्ष व तेरहवीं लोक सभा के सांसद थे.
  19. भारतीय ज्ञानपीठ का नवलेखन पुरस्कार:- आज ही के दिन वर्ष 2008 में रविकांत, उमा शंकर चौधरी व विमल चन्द्र पाण्डेय को संयुक्त रूप से भारतीय ज्ञानपीठ का नवलेखन पुरस्कार प्रदान किया गया.
  20. इंटरनेशनल एसोसियेशन आफ़ बुक कीपर्स:- आज ही के दिन वर्ष 2008 में भारतीय पत्रकार अनीसुद्दीन अजीज को इंटरनेशनल एसोसियेशन आफ़ बुक कीपर्स (आईएबी) के न्यू बिजनेस आफ़ द ईयर अवार्ड से सम्मानित किया गया.
  21. गुडस एंड सर्विसेज टैक्‍स:- आज ही के दिन वर्ष 2017 में गुडस एंड सर्विसेज टैक्‍स (GST) का शुभारंभ हुआ था.
  22. विश्व धरोहर स्थल घोषित:- आज ही के दिन वर्ष 2018 में यूनेस्को ने मुम्बई के विक्टोरिया, गोथिक और आर्ट डेको शैलियों के भवनों को विश्व धरोहर स्थल घोषित किया.

========== ========== ===========

Remember those moments- 54.

  1. Started their movement against ill-treatment:- On this day in the year 1855, the Santhals of Rajmahal Hills, Santhal-Parganas, Bihar led by Sindhu and Kanhu in Bhorandheji of Bengali organized a protest against the British, revenue officials, police, landlords and moneylenders. Started his movement against the ill-treatment being done.
  2. Politician Mukut Bihari Lal Bhargava:- On this day in the year 1903, politician Mukut Bihari Lal Bhargava was born in Udaipur princely state of Rajasthan. M.A. from Allahabad University and L. Ale. B. After doing this, he started practicing law in Beaver in the year 1927. C.R. With the influence of Das, Motilal Nehru, and Mahatma Gandhi, he used to fearlessly take up the cases of Rajbandis in his hands. In the year 1930, he joined the Congress. Bhargava ji, a supporter of ancient Indian civilization and culture, was known as an influential speaker in the Lok Sabha. In the year 1946, Mukut Bihari Lal Bhargava was elected a member of the Central Assembly and the Constituent Assembly. After independence, he represented the Ajmer constituency in the Lok Sabha in three elections.
  3. Arrested for the first time: – On this day in the year 1914, Father of the Nation Mahatma Gandhi was arrested for the first time while agitating for the rights of Indians in South Africa.
  4. Politician, industrialist, educationist, and thinker Dadabhai Naoroji: – On this day in the year 1917, Dadabhai Naoroji passed away. He was a Parsi intellectual, educationist, cotton trader, and early political and social leader of British India. Dadabhai Naoroji is known as the Grand Old Man of India. He was a Member of Parliament (MP) in the United Kingdom House of Commons between 1892–95 and was the first Asian to become a British MP.
  5. Writer and critic Raghuvansh: – On this day in the year 1921, writer and critic Raghuvansh was born in Gopamau town of Hardoi district in Uttar Pradesh. Both his hands were crippled from birth. Raghuvansh had resolved in his mind that he would not allow his disability to become his weakness and he started writing with his feet. There were many adverse situations in his life, but he continued to move forward and he mastered writing with his feet. From Allahabad University, he did MA in Hindi language and D.Phil on the subject ‘Prakriti aur Kavya in Bhakti aur Ritikal’ of Hindi literature. Professor Raghuvansh received the ‘Murti Devi Award’ for the year 2008.
  6. Musician Kalyanji:- On this day in the year 1928, musician Kalyanji was born at a place called Kundrodi in the Kutch district of Gujarat. His father’s name was Virji Shah. Kalyanji used to dream of becoming a musician since childhood. Although he did not take music education from any master. Kalyanji entered the film world as an assistant to Hemant Kumar and composed some verses of the songs of the film ‘Naagin’ in the year 1954. The credit for introducing electronic music in Indian films also goes to Kalyanji. The pair of Kalyanji-Anandji ruled Hindi cinema for three consecutive decades in the years 1960, 1970, and 1980. Kalyanji Anandji also received the Filmfare Award for Best Music Composer for the film ‘Kora Kagaz’ released in the year 1974. Kalyanji gave music in about 250 films in his cine career.
  7. Scientist C.N. R. Rao:- On this day in the year 1934, scientist C.N. R. Rao was born in a Kannada family in Bangalore. He is the only child of his parents Nagesh and Nagamma Rao. He got an environment of good values and studies from the beginning. While studying at ‘Acharya High School’ in Basavanagudi, he got interested in chemistry. He also has a good command of Sanskrit and English language. He obtained a B.Sc degree from ‘Mysore University’ at the age of only seventeen. Rao, who played an important role in shaping India’s policies in the field of science, was also a member of Prime Minister Indira Gandhi’s Scientific Advisory Council. Professor Rao is known for his expertise in solid state and materials chemistry. He played a key role in developing a fundamental understanding between the properties of matter and their molecular structure.
  8. Announcement of the members of the Boundary Commission:- On this day in the year 1947, after the announcement of the partition of India, the members of the Boundary Commission were announced for the partition of Bengal and Punjab.
  9. Politician Harivansh Narayan Singh:- On this day in the year 1956, politician Harivansh Narayan Singh was born.
  10. Tashkent Agreement: – On this day in the year 1965, India and Pakistan agreed to a ceasefire under the auspices of the United Nations, which signed a treaty to stop the war in the Rann of Kutch. The United States and the Soviet Union used significant diplomatic means to prevent any further escalation of the conflict between the two South Asian countries. The Soviet Union, led by Premier Alexei Kosygin, hosted ceasefire talks in Tashkent (now in Uzbekistan), where Indian Prime Minister Lal Bahadur Shastri and Pakistani President Ayub Khan signed the Tashkent Agreement.
  11. Politician Bhupendra Yadav:- On this day in the year 1969, politician Bhupendra Yadav was born in Jamalpur, Gurugram (Haryana). Rajya Sabha member Bhupendra Yadav is the first cabinet minister from the Yadav community in the Modi government.
  12. Asha Devi Aryanayakam:- On this day in the year 1970, Asha Devi Aryanayakam passed away. Aryanayakam was a dedicated woman who tried to remove ignorance and create a world full of knowledge, love, and faith.
  13. President’s Rule imposed in Assam:- On this day in the year 1981, President’s Rule refers to Article 356 of the Constitution of India which deals with the failure of the constitutional machinery of an Indian state. In the event that the government in a state is not able to function in accordance with the constitution, the state comes under the direct control of the central government, with executive authority being exercised through a governor rather than a council of ministers headed by an elected chief minister.
  14. Painter K. H. Ara:- On this day in the year 1985, painter K. H. Ara passed away.
  15. Mizoram became the state of India: – On this day in the year 1986, Mizoram is one of the states of Northeast India, which has Aizawl as its capital. The name is derived from Mi (people), Zo (relation with the people of Mizoram/Lushai Hills), and Ram (land), and thus Mizoram means “Land of the Hill People”.
  16. Actress Avika Gor:- On this day in the year 1997, Avika Gor was born in a Gujarati family in Mumbai. Her father, Sameer Gaur, is an investment-insurance agent, while her mother, Chetna Gaur, is a homemaker. Avika did her schooling at Ryan International School, Mumbai. Avika started her career with television shows but gained screen recognition through Colors’ show Pehchaan. Got it from
  17. Ladakh Autonomous Hill Development Council:- On this day in the year 2000, the council was created under the Ladakh Autonomous Hill Development Council Act 1995, Leh district was carved out of Leh district due to religious and cultural differences with the rest of Jammu and Kashmir. There was a demand to create a new Indian Union Territory.
  18. Politician Sahib Singh Verma:- On this day in the year 2007, politician Sahib Singh Verma passed away. Sahib Singh Verma was the Vice President of the Bharatiya Janata Party and a member of the Thirteenth Lok Sabha.
  19. Navlekhan Puraskar of Bharatiya Jnanpith:- On this day in the year 2008, Ravikant, Uma Shankar Chowdhary and Vimal Chandra Pandey were jointly awarded Navlekhan Puraskar of Bharatiya Jnanpith.
  20. International Association of Book Keepers:- On this day in the year 2008, Indian journalist Anisuddin Aziz was awarded the New Business of the Year Award by the International Association of Book Keepers (IAB).
  21. Goods and Services Tax: – On this day in the year 2017, Goods and Services Tax (GST) was launched.
  22. Declared World Heritage Site:- On this day in the year 2018, UNESCO declared the buildings of Victoria, Gothic, and Art Deco styles of Mumbai as World Heritage Site.
Rate this post
:

Related Articles

Back to top button