News

याद आते वो पल-26.

  1. बाबूलाल गौर:- आज ही के दिन वर्ष 1930 में बाबूलाल गौर का जन्म नौगीर ग्राम, प्रतापगढ़ ज़िला (उत्तर प्रदेश) में हुआ था. इनके पिता का नाम श्री रामप्रसाद था. बाबूलाल गौर ने अपनी शैक्षणिक योग्यताओं में बी.ए. और एल.एल.बी. की डिग्रियाँ प्राप्त की हैं. गौर पहली बार 1974 में भोपाल दक्षिण विधानसभा क्षेत्र के उपचुनाव में जनता समर्थित उम्मीदवार के रूप में निर्दलीय विधायक चुने गये थे. गौर ‘भारतीय मज़दूर संघ’ के संस्थापक सदस्य हैं. वे मध्य प्रदेश के भूतपूर्व मुख्यमंत्री हैं, जिनका प्रदेश की राजनीति में प्रमुख स्थान रहा है. बाबूलाल गौर वर्ष 1946 से ही ‘राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ’ से जुड़ गए थे. वर्ष 1974 में मध्य प्रदेश शासन द्वारा बाबूलाल गौर को ‘गोवा मुक्ति आन्दोलन’ में शामिल होने के कारण ‘स्वतंत्रता संग्राम सेनानी’ का सम्मान प्रदान किया गया था.
  2. बलबीर सिंह जूनियर:- आज ही के दिन वर्ष 1932 में भारतीय हॉकी टीम के भूतपूर्व खिलाड़ी बलबीर सिंह जूनियर का जन्म जालंधर के संसारपुर में हुआ था. उन्होंने छह वर्ष की उम्र से हॉकी खेलना सीखे. उनका 1951 में पहली बार भारतीय टीम में चयन हुआ था. बलबीर सिंह ने वर्ष 1962 में भारतीय सेना से जुड़े और सेना की टीम के लिये खेलते रहे. वर्ष 1958 में जापान के टोक्यो में आयोजित एशियाई खेलों में रजत जीतने वाली भारतीय टीम का वह हिस्सा थे.
  3. इलैयाराजा:- आज ही के दिन वर्ष 1943 में फ़िल्मों के प्रसिद्ध संगीतकार, गीतकार तथा गायक इलैयाराजा का जन्म तमिलनाडु के तेनी जिले में पनिपुरम के एक गरीब ग्रामीण दलित परिवार में हुआ था. इलैयाराजा डैनियल रामास्वामी और चिन्नाथयमल के तीसरे बेटे थे. उनका बचपन गांव में ही बीता. बचपन से ही तमिल लोक संगीत को सुनना बेहद पसंद था.वर्ष 1968 में इलैयाराजा ने मद्रास (अब चेन्नई) में प्रोफेसर धनराज के साथ एक संगीत पाठ्यक्रम शुरू किया, जिसमें पश्चिमी शास्त्रीय संगीत का एक सिंहावलोकन, काउंटरपॉइंट जैसी तकनीकों में रचनात्मक प्रशिक्षण और वाद्य प्रदर्शन में अध्ययन शामिल था. इलैयाराजा ने शास्त्रीय गिटार में विशिष्ट और लंदन के ट्रिनिटी कॉलेज ऑफ म्यूजिक के साथ इसमें एक कोर्स भी किया. ‘पल्लवी अनुपल्लवी’ एक ऐसी प्रेम कहानी पर आधारित फिल्म थी, जिसमें कम उम्र का युवक एक शादीशुदा महिला के प्यार में पड़ जाता है, जो अपने पति से अलग हो चुकी होती है. परिवारिक बाध्यताएं, सामाजिक बेड़ियों और कई समस्याओं से संघर्ष करती कहानी फिल्म को दिलचस्प बनाती है. इन सबके बीच प्यार की नई परिभाषा भी तलाशती है.
  4. अनंत गीते:- आज ही के दिन वर्ष 1951 में प्रसिद्ध राजनीतिज्ञ अनंत गीते का जन्म हुआ था.
  5. मणिरत्नम:- आज ही के दिन वर्ष 1955-56 में फ़िल्म निर्माता-निर्देशक मणिरत्नम का जन्म तमिलनाडु के मदुरई में हुआ था. बहुत ही कम लोगों को मालूम है कि उनका पूरा नाम गोपाल रत्नम सुब्रमणियम है. मणिरत्नम ने स्कूली शिक्षा चेन्नई में रहकर पूरी की. उन्होंने ‘मद्रास विश्वविद्यालय’ से कॉमर्स क्षेत्र में स्नातक की उपाधि हासिल की. फिल्म बनाने से पहले उन्होंने ‘जमना लाल बजाज इंस्टीट्यूट ऑफ़ मैनेजमेंट स्टडी’ से एमबीए करके मैनेजमेंट कंसल्टेंट का काम किया. फिल्मों को वास्तविकता से रूबरू कराने वाले मणिरत्नम के दो भाई किसी दुर्घटना की वजह से उनके दोनों भाई इस दुनिया में नहीं रहे. मणिरत्नम का विवाह राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता सुहासनी से 1988 में हुआ. सुहासनी प्रख्यात अभिनेता कमल हसन की भतीजी और चारु हासन की बेटी हैं. फिल्में बनाने से पहले मणिरत्नम फिल्म सहायक के तौर पर भी काम कर चुके थे. फिल्म निर्देशक के रूप में उनकी पहली फिल्म कन्नड़ में ‘पल्लवी अनु पल्लवी’ थी, जिसमें अभिनेता अनिल कपूर और लक्ष्मी ने काम किया.णिरत्नम जिस तरह से दक्षिण के एक विख्यात निर्देशक हैं, उसी तरह से वह बॉलीवुड के जाने माने फ़िल्मकार भी हैं.मणिरत्नम को अब तक छह राष्ट्रीय पुरस्कार मिल चुके हैं.
  6. नन्दन नीलेकणी:- आज ही के दिन वर्ष 1955 में भारतीय उपक्रमी, नौकरशाह, नेता और प्रसिद्ध सॉफ़्टवेयर कम्पनी ‘इन्फ़ोसिस’ के सह-संस्थापक सदस्य नन्दन नीलेकणी का जन्म हुआ था.
  7. तमिलसाई सुंदरराजन:- आज ही के दिन वर्ष 1961 में भारतीय जनता पार्टी की राजनीतिज्ञ तमिलसाई सुंदरराजन का जन्म हुआ था.
  8. नटराजन चंद्रशेखर:- आज ही के दिन वर्ष 1963 में भारतीय व्यवसायी नटराजन चंद्रशेखर का जन्म हुआ था.
  9. डोला बनर्जी:- आज ही के दिन वर्ष 1980 में तीरंदाज़ महिला खिलाड़ी डोला बनर्जी का जन्म झारखंड में हुआ था. कभी भारत में तीरंदाज़ी को मुख्य रूप से पुरुषों का खेल समझा जाता है, लेकिन डोला बनर्जी ने इस खेल में न सिर्फ भाग लिया, बल्कि अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर सफलता भी अर्जित की.डोला ने वर्ष 2005 में टर्की के अंतल्य में हुआ 18वां गोल्डन एरो ग्रैंड पिक्स टूर्नामेंट जीतकर डोला ने इतिहास रच डाला.
  10. विश्वनाथ दास:- आज ही के दिन वर्ष 1984 में भारतीय राजनीतिज्ञ एवं ब्रिटिश भारत उड़ीसा प्रान्त के मुख्यमंत्री विश्वनाथ दास का निधन हुआ था.
  11. राज कपूर:- आज ही के दिन वर्ष 1988 में भारतीय निर्माता, निर्देशक अभिनेता राज कपूर का निधन हुआ था. अपनी शुरूआती फ़िल्मों से लेकर प्रेम कहानियों को मादक अंदाज से परदे पर पेश करके उन्होंने हिंदी फ़िल्मों के लिए जो रास्ता तय किया, इस पर उनके बाद कई फ़िल्मकार चले.राज कपूर की फ़िल्मों की कहानियां आमतौर पर उनके जीवन से जुड़ी होती थीं और अपनी ज्यादातर फ़िल्मों के मुख्य नायक वे खुद होते थे.रूस जो “हाफ ग्लास वाटर” थ्योरी ( हाफ ग्लास थ्योरी वही थी जिसे आज “फ्री सेक्स” कहा जाता है. वर्ष 1935 में मात्र 11 वर्ष की उम्र में राजकपूर ने फ़िल्म ‘इंकलाब’ में अभिनय किया था. उस समय वे बॉम्बे टॉकीज़ स्टुडिओ में सहायक का काम करते थे. वे केदार शर्मा के साथ क्लैपर ब्वाॅय का कार्य करने लगे. कुछ लोगों का मानना है कि उनके पिता पृथ्वीराज कपूर को विश्वास नहीं था कि राज कपूर कुछ विशेष कार्य कर पायेगा, इसीलिये उन्होंने उसे सहायक या क्लैपर बोयाय जैसे छोटे काम में लगवा दिया था. उस समय के प्रसिद्ध निर्देशक केदार शर्मा ने राज कपूर के भीतर के अभिनय क्षमता और लगन को पहचाना और उन्होंने राज कपूर को वर्ष1947 में अपनी फ़िल्म ‘नीलकमल’ में नायक की भूमिका दी.
  12. श्रीकांत जिचकर:- आज ही के दिन वर्ष 2004 में श्रीकांत जिचकर ने 42 यूनिवर्सिटी में शिक्षा प्राप्त की थी.
  13. ब्लादीवोस्तोक सम्मेलन:- आज ही के दिन वर्ष 2005 में भारत, रूस और चीन का ब्लादीवोस्तोक सम्मेलन समाप्त.
  14. विश्नोई ने इस्तीफ़ा:- आज ही के दिन वर्ष 2008 में मध्य प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री अजय विश्नोई ने इस्तीफ़ा दिया.
  15. अधिग्रहण का सौदा:- आज ही के दिन वर्ष 2008 में टाटा मोटर्स लिमिटेड ने फोर्ड मोटर कम्पनी के दो ब्रांडों ‘जगुआर’ व ‘लैंड’ रोवर के अधिग्रहण का सौदा पूरा किया.
  16. महानिशेदक नियुक्त:- आज ही के दिन वर्ष 2008 में लेफ्टिनेंट जनरल नरेश कुमार परमार को थल सेना की चिकित्सा सेवा का महानिशेदक नियुक्त किया गया.
  17. राजीव गांधी आवास योजना:- आज ही के दिन वर्ष 2011 में भारत सरकार ने शहरी क्षेत्रों में झुग्गी झोपडियों से मुक्ति दिलाने और गरीबों को अपने घर का सपना पूरा कराने में सहायता के लिए राजीव गांधी आवास योजना के पहले चरण को मंजूरी दी.

========== ========== ===========

Remember those moments- 26.

  1. Babulal Gaur:- On this day in the year 1930, Babulal Gaur was born in Naugir village, Pratapgarh district (Uttar Pradesh). His father’s name was Shri Ramprasad. Babulal Gaur holds a B.A. in his educational qualifications. and L.L.B. degrees have been obtained. Gaur was elected as an independent MLA for the first time in 1974 in the by-election of the Bhopal South Assembly Constituency as a public-supported candidate. Gaur is the founding member of ‘Bharatiya Mazdoor Sangh’. He is the former Chief Minister of Madhya Pradesh, who has had a prominent place in the politics of the state. Babulal Gaur joined ‘Rashtriya Swayamsevak Sangh’ from the year In the year 1974, Babulal Gaur was awarded the honor of ‘Freedom Fighter’ by the Government of Madhya Pradesh for his involvement in the ‘Goa Liberation Movement’.
  2. Balbir Singh Junior:- On this day in the year 1932, former Indian hockey team player Balbir Singh Junior was born in Sansarpur, Jalandhar. He learned to play hockey from the age of six. He was selected for the Indian team for the first time in Balbir Singh joined the Indian Army in the year 1962 and continued to play for the army team. He was part of the Indian team that won silver in the Asian Games held in Tokyo, Japan in the year 1958.
  3. Ilaiyaraaja:- On this day in the year 1943, the famous film composer, lyricist, and singer Ilaiyaraaja was born in a poor rural Dalit family of Panipuram in the Theni district of Tamil Nadu. Ilaiyaraaja was the third son of Daniel Ramaswamy and Chinnathayamal. His childhood was spent in the village itself. As a child, I was very fond of listening to Tamil folk music. In 1968, Ilaiyaraaja started a music course with Professor Dhanraj in Madras (now Chennai), which included an overview of Western classical music, compositional training in techniques such as counterpoint, and instrumental performance. the study was included. Ilaiyaraaja specialized in classical guitar and did a course in it with Trinity College of Music, London. ‘Pallavi Anupallavi’ was a love story based film in which a young man falls in love with a married woman who is separated from her husband. Family compulsions, social shackles, and the story of struggling with many problems make the film interesting. In the midst of all this, a new definition of love is also sought.
  4. Anant Geete:- On this day in the year 1951, famous politician Anant Geete was born.
  5. Mani Ratnam: – On this day in the year 1955-56, film producer-director Mani Ratnam was born in Madurai, Tamil Nadu. Very few people know that his full name is Gopal Ratnam Subramaniam. Mani Ratnam completed his schooling while living in Chennai. He did his graduation in commerce from the University of Madras. Before making the film, he worked as a management consultant after completing his MBA from Jamna Lal Bajaj Institute of Management Studies. Mani Ratnam’s two brothers, who made films face reality, were no more in this world due to an accident. Mani Ratnam was married to National Award winner Suhasani in Suhasani and is the niece of noted actor Kamal Haasan and the daughter of Charu Haasan. Before making films, Mani Ratnam had also worked as a film assistant. His first film as a film director was ‘Pallavi Anu Pallavi’ in Kannada, in which actors Anil Kapoor and Lakshmi worked. The way Niratnam is a well-known director from the South, he is also a well-known Bollywood filmmaker. Mani Ratnam has received six National Awards so far.
  6. Nandan Nilekani:- On this day in the year 1955, an Indian entrepreneur, bureaucrat, leader, and co-founder member of the famous software company ‘Infosys Nandan Nilekani was born.
  7. Tamilsai Sundararajan: – On this day in the year 1961, Bharatiya Janata Party politician Tamilsai Sundararajan was born.
  8. Natarajan Chandrasekhar: – On this day in the year 1963, Indian businessman Natarajan Chandrasekhar was born.
  9. Dola Banerjee: – On this day in the year 1980, female archer Dola Banerjee was born in Jharkhand. Once upon a time, archery in India is mainly considered a men’s sport, but Dola Banerjee not only participated in this sport but also earned success at the international level. Dola created history by winning the Pix tournament.
  10. Vishwanath Das:- On this day in the year 1984, Vishwanath Das, an Indian politician and Chief Minister of British India’s Orissa province, passed away.
  11. Raj Kapoor: – On this day in the year 1988, Indian producer, director-actor Raj Kapoor passed away. Right from his early films, the way he set for Hindi films by presenting love stories in a heady way, many filmmakers followed him. The stories of Raj Kapoor’s films were usually related to his life and spent most of his time. He used to be the main hero of the films himself. The “Half Glass Water” Theory (Half Glass Theory) was what is called “Free Sex” today. In 1935, at the age of just 11, Raj Kapoor acted in the film ‘Inquilab’. At that time he used to work as a helper in Bombay Talkies studio. He started working as a clapper boy with Kedar Sharma. Some people believe that his father Prithviraj Kapoor did not believe that Raj Kapoor was anything special. Will be able to work, that’s why he got him engaged in small work like assistant or clapper boy. Kedar Sharma, a famous director of that time, recognized the acting ability and passion within Raj Kapoor and he cast Raj Kapoor in his film ‘Neelkamal’ in 1947. ‘I was given the role of the hero.
  12. Shrikant Jichkar:- On this day in the year 2004, Shrikant Jichkar received education in 42 universities.
  13. Vladivostok Conference: – On this day in the year 2005, the Vladivostok Conference of India, Russia, and China ended.
  14. Vishnoi resigns:- On this day in the year 2008, Madhya Pradesh Health Minister Ajay Vishnoi resigned.
  15. Acquisition deal: – On this day in the year 2008, Tata Motors Limited completed the deal of acquisition of two brands ‘Jaguar’ and ‘Land Rover’ of Ford Motor Company.
  16. Director General appointed:- On this day in the year 2008, Lieutenant General Naresh Kumar Parmar was appointed Director General of the Medical Services of the Army.
  17. Rajiv Gandhi Awas Yojana:- On this day in the year 2011, the Government of India approved the first phase of the Rajiv Gandhi Awas Yojana to get rid of slums in urban areas and help the poor fulfill their dream of a home.
Rate this post
:

Related Articles

Back to top button