Dhram Sansar - Gyan Sagar Times

Dhram Sansar

  • मोक्षदा एकादशी…

    सत्संग के दौरान एक भक्त ने महाराजजी से पूछा, महाराजजी पितृ अगर नीच योनी में हों तो उनकी मुक्ति के…

    Read More »
  • उत्पन्ना एकादशी

    सत्संग के दौरान एक भक्त ने महाराजजी से पूछा कि, महाराजजी पुण्यमयीएकादशी तिथि की उत्पत्ति कैसे हुई, इसके बारे में…

    Read More »
  • भजन-04…

    आप देख रहें है ज्ञानसागरटाइम्स.कॉम     भजनसंध्या के अवसर पर गोवर्द्धनजी महाराज और वालव्याससुमनजी महाराज द्वारा प्रस्तुत भजन “कहीं छुट जाय…

    Read More »
  • कार्तिक पूर्णिमा…

    ‘नमो स्तवन अनंताय सहस्त्र मूर्तये, सहस्त्रपादाक्षि शिरोरु बाहवे। सहस्त्र नाम्ने पुरुषाय शाश्वते, सहस्त्रकोटि युग धारिणे नम:।।’   सनातन धर्मालम्बियों के…

    Read More »
  • भजन-03…

    आप देख रहें है ज्ञानसागरटाइम्स.कॉम     रामायण पाठ के दौरान वाल्व्याससुमनजी महाराज द्वारा प्रस्तुत भजन “जिस दिल में याद रहे प्रभु…

    Read More »
  • सूर्य देव के 108 नाम

    हिन्दू धर्मानुसार भगवान आदित्य ही एक मात्र ऐसे देव हैं जो साक्षात लोगों को दिखाई देते हैं. विश्वरूप का वर्णन…

    Read More »
  • अस्ताचलगामी सूर्य को अर्घ्य…

    आप देख रहें है ज्ञानसागरटाइम्स.कॉम    चार दिवसीय महापर्व छठ के तीसरे दिन कार्तिक शुक्ल पक्ष षष्ठी के दिन में प्रसाद…

    Read More »
  • खरना-2022

    आप देख रहें है ज्ञानसागरटाइम्स.कॉम    सूर्योपासना का यह अनुपम लोकपर्व मुख्य रूप से पूर्वी भारत के बिहार, झारखण्ड, पूर्वी उत्तर प्रदेश,…

    Read More »
  • भगवान सूर्य देव

    पौराणिक धार्मिक ग्रंथों के अनुसार ,भगवान सूर्य समस्त जीव-जगत के आत्मस्वरूप और अखिल सृष्टि के आदि कारण भी हैं. भगवान…

    Read More »
  • लोकआस्था का महापर्व:– छठ

    हिन्दू धर्मानुसार, भगवान आदित्य ही ऐसे एकमात्र देवता हैं जो प्रत्यक्ष रूप से लोगों को दिखाई देते हैं, इनका वर्णन…

    Read More »
Back to top button
error: Content is protected !!