13 दिसम्बर को होगी टीएसटीएम ओलंपियाड की परीक्षा…

13 दिसम्बर को होगी टीएसटीएम ओलंपियाड की परीक्षा…

90
0
SHARE
अगर पीजन की संख्या पीजन होल से अधिक हो तो पीजन होल ऐसा होगा जिसमें एक से अधिक पीजन होंगे.

अक्सर स्कूल व कॉलेज में पढ़ने वाले छात्रों से पूछा जाय कि सबसे कठिन विषय का नाम क्या है? तो जवाब मिलता है गणित. वहीं, गणित के जानकारों के अनुसार गणित विज्ञान की रानी है.  बिहार मैथमेटिकल सोसाइटी के संयोजक सह संयुक्त सचिव डॉ० विजय कुमार ने पिछले साल से गणित ओलम्पियाड संबंधित कार्यक्रम की शुरुआत की थी. इस साल 2020 में भी बच्चों व शिक्षकों में गणित विषय में अभिरुचि पैदा करने हेतु टीएसटीएम ओलंपियाड एवं टीएनपी का आयोजन किया जा रहा है. ज्ञात है कि कोरोना महामारी के कारण स्कूल व कॉलेज भी बंद है फिर भी डॉ० कुमार व अन्य शिक्षविद बच्चों को ऑनलाइन क्लास के जरिए हर शनिवार व रविवार को पढ़ा रहें हैं साथ ही टेस्ट भी लिया जा रहा है. 100 अंकों के टेस्ट परीक्षा में बच्चों को भी 100 अंक प्राप्त(मिल) रहें हैं.

आज के कार्यक्रम में बच्चों के बीच अभयानंद पूर्व डी०जी०पी० बिहार ने पिजनहोल सिद्धान्त के बारे में बताया. उन्होने बताया कि, डिसक्रीट गणित के अनुसार इस सिद्धांत में कुछ पीजन है और उसे एक पिंजरे की होल के अन्दर रखना है. अगर पीजन की संख्या पीजन होल से अधिक हो तो पीजन होल ऐसा होगा जिसमें एक से अधिक पीजन होंगे.

बिहार मैथमेटिकल सोसाइटी के संयोजक सह संयुक्त सचिव डॉ० विजय कुमार ने बताया कि ओलम्पियाड परीक्षा एवं प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी के लिए प्रत्येक शनिवार एवं रविवार को बच्चों को गहन प्रशिक्षण दिया जा रहा है. इस प्रशिक्षण में भारी संख्या में छात्र एवं  शिक्षाविद भी भाग  ले रहे हैं. वहीं, सुदर्शन शर्मा, गुणवत्ता शिक्षा समिति गया के परीक्षा नियंत्रक सह प्राचार्य जिला स्कूल गया ने बताया कि टीएसटीएम ओलंपियाड एवं टीएनपी में भाग लेने के लिए बच्चे दिए गये लिंक को डाउनलोड कर सकते है:-  https://meet.google.com/shw-ierx-mez. TSTM Olympiad एवं TNP में भाग लेने हेतु बच्चे 18 नवम्बर2020 तक आफलाइन या आनलाईन www.bmsbihar.org पर आवेदन कर सकते हैं. उन्होने बताया कि 13 दिसम्बर 2020 को TSTM Olympiad परीक्षा आयोजित किया जायेगा.

मो० मुस्तफा हुसैन मंसूरी, जिला शिक्षा पदाधिकारी, गया ने बताया कि सोसाइटी का लक्ष्य शहर एवं ग्रामीण क्षेत्रों के बच्चों को प्रेरित करने एवं गुणवत्ता शिक्षा पर विशेष ध्यान दिया जाना चाहिए. इस हेतु समाज के सभी शिक्षित वर्ग को आगे आने की आवश्यकता है.

प्रमोद कुमार, मिशन गुणवत्ता शिक्षा समिति के संयोजक सह गणित शिक्षक +2 जिला स्कूल गया ने बताया कि वर्ग 06 से 12 के छात्र एवं छात्राओं का आनलाईन टेस्ट लिया गया एवं परीक्षा परिणाम घोषित किया गया. उन्होने बताया कि, 100अंकों की टेस्ट परीक्षा में शिव ज्योति, सरस्वती शिक्षा विधा मंदिर मुजफ्फरपुर, आयुशी कुमारी, डी ए वी विधालय, एचएफसी बरौनी, बेगुसराय, आरुष कश्यप आवासीय ज्ञान निकेतन विधालय, भागलपुर , प्रियांशु सिन्हा, लोयला हाई स्कूल पटना ने टेस्ट में शत प्रतिशत अंक प्राप्त किया.

इस कार्यक्रम में डी० कुमार फैकल्टी गणित बेगुसराय, मनीष कुमार सिंह, गणित विभाग जे०जे०कालेज गया, अरविंद भारती संयोजक लखीसराय, राजन कुमार, उपसंयोजक छपरा, कौशल सिंह, शिक्षक वजीरगंज, राजीव नयन गणित शिक्षक रसलपुर उ०वि० गया, नरेन्द्र कुमार गणित शिक्षक, +2 अनुग्रह कन्या उ०वि० गया, पी०के० चक्रवर्ती (विभागाध्यक्ष एम०जे०के०कालेज) बेतिया आदि ने भाग लिया.