गौरवपूर्ण धरोहर…

गौरवपूर्ण धरोहर…

71
0
SHARE

पौराणिक और सांस्कृतिक धरोहर में एक नाम आरण्य प्रदेश का आता है। वर्तमान में इसे हम  सभी आरा के नाम से जानते है. गौरवपूर्ण नगरी में एक से बढ़कर एक धरोहर या यूं कहें कि सांस्कृतिक विरासत को अपने मे समेटे हुए है. आज हम बात कर रहें है गुनरी (गुंडी) ग्राम की. यह ग्राम आरा से 13 किलोमीटर पर आरा-सराइयाँ से पूरब सराइयाँ-बखोरपुर रोड पर स्थित है. पटना से इसकी दूरी करीब 75 किलोमीटर है.

गुंडी ग्राम में दक्षिण भारतीय शैली मे बना एक अनूठा व अनुपम मंदिर है और इस मंदिर में भगवान श्रीरंगनाथस्वामीजी विराजे है. देखने में यह मंदिर अपने आप में अनूठा और अद्भुत है. श्रीरंगनाथस्वामीजी की मूर्ति द्र्विण शैली में बनी हुई है और इस तरह की मूर्ति दक्षिण भारत में देखने को मिलती है. यहाँ भगवान विष्णु शेषनाग की सइया पर लेटे हुए माता लक्ष्मी पावन द्वाते हुए साथ ही भगवान ब्रहमा की भी मूर्ति है.

मंदिर के संरक्षक जुगालकिशोर सिंह से बातचीत करने…

संकलन :- दिलीप और भास्कर.

Video link :-  https://youtu.be/qNrm1TzfySw