Health

अच्छी नींद के घरेलू …

अच्छी नींद लेना स्वस्थ शरीर के लिए बेहद ज़रूरी होता है, इससे हम कई बीमारियों से छुटकारा पा सकते हैं. हर उम्र के लोगों के लिए निश्चित समय की नींद बेहद आवश्यक होती है, जैसे नवजात शिशु 18 घंटे की नींद लेते हैं, तो वयस्कों को औसतन 8 घंटे नींद लेनी चाहिए, और बुजुर्गों के लिए 6 घंटे तक की नींद पर्याप्त होती है. पर्याप्त नींद ना लेने से शरीर कमजोर और तनाव भरा रहता है साथ ही सिरदर्द, थकान और किसी काम में मन ना लगने जैसे तकलीफें होती है. नींद ना आने की कई वजह हो सकती है जैसे तनाव, असंतुलित खान-पान..  दुनिया के 100 लोगों के दिमाग में एक ऐसी दुर्लभ बीमारी पायी जाती है, जो ना सोने की वजह से होती है, जिसके कारण कुछ समय बाद उस व्यक्ति में पागलपन के लक्षण दिखाई देने लगते हैं, और आगे चलकर उसकी मृत्यु भी हो सकती है.

बिना सोये 18 महीने तक जागा जा सकता है लेकिन लम्बे समय तक नहीं सोने की स्थिति में शरीर और दिमाग काम करना बंद कर देता है इसीलिए, नींद लेना भी हर दिन के एक लिए महत्वपूर्ण होता है. अगर आप नींद को कम महत्व देकर कई कई दिनों तक सोते नहीं है तो, उसके दुष्परिणामों को जान लें, और अपनी स्वस्थ दिनचर्या के लिए नींद के लिए भी पर्याप्त समय निकालना शुरू कर दें. रोज़ाना 6 -8 घंटे की नींद आपको स्वस्थ बनाये रखेगी वहीं ज़्यादा सोने से डायबिटीज, मोटापा और दिल की कई बीमारियों का ख़तरा बढ़ जाता है.

  • हमारे शरीर की प्रतिरोधक क्षमता और बीमारियों के आक्रमण से शरीर की सुरक्षा करती है, और स्वस्थ रहने के लिए प्रतिरोधक तंत्र का मज़बूत होना बेहद जरुरी होता है. लेकिन नहीं सोने की स्थिति में इस तंत्र की कार्यप्रणाली पर विपरीत प्रभाव पड़ता है, और शरीर में कमजोरी का अनुभव करने लगता है.
  • अच्छी नींद जहाँ दिमाग को स्थिर और तेज़ बनाती है, वहीँ बिना नींद की स्थिति में दिमाग के सोचने व समझने की क्षमता घटने लगती है, स्मरण शक्ति स्थायी रूप से कम हो जाने का भी ख़तरा बना रहता है.
  • नींद नहीं लेने की स्थिति में व्यक्ति में चिड़चिड़ापन और तनाव बढ़ जाता है, और निर्णय लेने में परेशानी होने लगती है, साथ ही दिमाग की कार्यक्षमता घटने से व्यक्ति पागल भी हो सकता है.
  • नहीं सोने की स्थिति में शरीर में तनाव हॉर्मोन की मात्रा बढ़ने लगती है, जिससे त्वचा को लचीला बनाये रखने वाला कोलेजन प्रोटीन टूटने लगता है, जिसके कारण चेहरे और त्वचा पर झुर्रियाँ आने लगती हैं.

गहरी और अच्छी नींद के लिए कुछ नुस्खे:-

  • रात को सोने से पहले पैर के तलवों पर सरसों के तेल की मालिश करें, इससे दिमाग शांत होगा और अच्छी नींद भी आएगी.
  • रात को सोने से पहले चाय-कॉफी आदि का ना पियें, इससे दिमाग की शिराएं उत्तेजित हो जाती हैं और, ये नींद में खलल डालती हैं.
  • रात को सोने से पहले हाथ, मुंह, पैर अच्छे से धोएं इससे शरीर की थकान दूर होगी और आप तारो-ताजा महसूस करेंगे और आपको गहरी नींद आएगी.
  • अधिक तनाव के कारण भी नींद ना आने की समस्या होती है इसके लिए जरुरी ये होता है कि अपने दिमाग को शांत रखा जाये. इसके लिए आप अपने मन पसंद संगीत भी सुन सकते हैं, या अपनी पसंदीदा किताब पढ़ सकते है, ऐसे में आपका मन शांत होगा, और नींद अच्छी आएगी.
  • रात को देर तक जागने और पर्याप्त नींद ना लेने से अनिंद्रा की शिकायत होने लगती है, इसके लिए अपनी दिनचर्या सुधारें और रोजाना करीब 7 से 9 घंटे की नींद अवश्य लें.
  • नियमित व्यायाम और योग करें, इससे नींद अच्छी आती है, शवासन, वज्रासन, भ्रामरी प्राणायम आदि कुछ ऐसे आसान हैं जो नियमित करने से शरीर की थकान दूर होती है, और अनिंद्रा से मुक्ति मिलती है.
  • 50 ग्राम अश्वगंधा, ब्राह्मी, शंखपुष्पी, शतावरी, मुलहटी, आंवला, जटामासी, खुरासानी और अजवायन मिलाकर पीस लें. रात में सोने से पहले 5 ग्राम चूर्ण को दूध के साथ पियें, कुछ ही दिनों में आपके नींद की समस्या समाप्त हो जाएगी, और आप अच्छी नींद का अनुभव करेंगे.

डॉ० बिमलेश कुमार

बिमलेश मेडीकल, (खगौल) पटना. 

Related Articles

Check Also
Close
Back to top button