12 दिसंबर से पहले अपना चेक बुक बदल लें,अन्यथा होगी परेशानी…

12 दिसंबर से पहले अपना चेक बुक बदल लें,अन्यथा होगी परेशानी…

11
0
SHARE
एसबीआई ने अपने ग्राहकों को चेक बुक सरेंडर करने और नई चेक बुक जारी करने के लिए एसएम्एस भेजना भी शुरू कर दिया है. फोटो:-गूगल.

अगर आप एसबीआई के ग्राहक हैं तो ध्यान दें. एसबीआई 12 दिसंबर 2018 से पुराने चेक बुक बंद करने जा रहा है और इसकी जगह नई चेक बुक जारी की जा रही है. अगर आप चेक बुक से लें-दें करते हैं तो आप परेशानी से बचने के लिए 12 दिसंबर से पहले अपना चेक बुक बदल लें.

बतातें चलें कि, भारतीय रिजर्व बैंक ने तीन महीने पहले बैंकों को निर्देश दिया था कि 01 जनवरी 2019 से नॉन सीटीएस चेक बुक का प्रयोग पूरी तरह से बंद करें. आरबीआई के  के निर्देशानुसार, बैंक अगले साल 01 जनवरी 2019 से नॉन-CTS चेक को क्लीयर नहीं करेंगे. एसबीआई ने अपने ग्राहकों के लिए इसकी आखरी डेडलाइन 12 दिसंबर 2018 रखी है. एसबीआई ने अपने ग्राहकों को चेक बुक सरेंडर करने और नई चेक बुक जारी करने के लिए एसएम्एस भेजना भी शुरू कर दिया है. एसएम्एस के अनुसार, नॉन सीटीएस चेक अगले महीने से स्वीकार नहीं किए जाएंगे.

सीटीएस(CTS) चेक क्या होता है…

सीटीएस (CTS) का अर्थ होता है चेक ट्रांजेक्शन सिस्टम. इस सिस्टम के तहत चेक की इलेक्ट्रॉनिक इमेज कैप्चर हो जाती है और फिजिकल चेक को क्लीयरेंस के लिए एक बैंक से दूसरे बैंक में भेजने की आवश्यकता नहीं होती. इस व्यवस्था में चेक के क्लीयरेंस के लिए एक बैंक से दूसरे बैंक में ले जाने की जरूरत नहीं होती. इससे ग्राहकों को बेहतर सुविधा भी मुहैया करवाई जा सकती है.बताते चलें कि, नॉन सीटीएस चेक को कंप्यूटर रीड नहीं कर पाता है इसलिए इन्हें फिजिकली एक ब्रांच से दूसरी ब्रांच में भेजा जाता है.