वर्ल्ड वाइड वेब (WWW)….

वर्ल्ड वाइड वेब (WWW)….

243
0
SHARE
वर्ल्ड वाइड वेब के 30वें जन्म दिन के अवसर पर गूगल ने डूडल बनाया है. फोटो :- गूगल

विशाल सूचनाओं के डेटाबेस को वर्ल्ड वाइड वेब (WWW) के नाम से जाना जाता है.जहां हर एक सूचना दूसरी सुचना से जुड़ा होता है. वर्तमान समय में हम सभी जितनी आसानी से इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं उतनी ही जटिल प्रक्रिया या यूँ कहें कि, तकनीक काम करती है. आज वर्ल्ड वाइड वेब (WWW) का 30वां जन्मदिन है इसके उपलक्ष्य में गूगल ने एक डूडल  बनाया है. आइये जानते है आखिर वर्ल्ड वाइड वेब (WWW) है क्या…?

वर्ल्ड वाइड वेब(WWW) जिसे हिंदी में ‘विश्व व्यापी वेब’ या ‘सामान्यत: वेब’  के नाम से भी जानते हैं. एक  वेब ब्राउज़र की सहायता से हम उन वेब पन्नों को देख सकते हैं जिनमें टेक्स्ट, इमेज, विडिओ एवं मल्टीमीडिया होता है और हाइपरलिंक की सहायता से उन पन्नों के बीच आ-जा सकते हैं.

वर्ल्ड वाइड वेब को टिम बर्नर्स ली द्वारा 1989 में यूरोपियन नाभकीय संगठन में काम करते वक्त बनाया था और उसे 1992 में इसे जारी किया गया था. उसके बाद से बरनर्स-ली नें वेब के स्तरों के विकास में सक्रीय भूमिका अदा की. हाल के वर्षों में उन्होंने ‘सीमेंटिक वेब’ विकसित करने की वकालत की है.

जब भी हमलोग इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं और एक वेबसाईट से दुसरे वेबसाईट पर जाने के लिए लिंक को क्लिक करते हैं तो दूसरी वेबसाईट पर पहुंच जाते हैं. जब भी आप किसी वेबसाईट पर काम करते हैं है या अखबार या किताब पढ़ते हैं और जरूरत के मुताबिक़ दुसरे साईट पर जाने के लिए दिए गये ‘लिंक’ को क्लिक करते हैं तो आप दुसरे वेबसाईट पर चले जाते हैं.

बताते चलें कि, वर्ल्ड वाइड वेब(WWW) और इंटरनेट दोनों अलग-अलग है परन्तु दोनों एक दुसरे पर निर्भर है. वर्ल्ड वाइड वेब जानकारी युक्त पेजों का विशाल संग्रह है जो एक दूसरे से जुड़ा होता है जिसे आमतौर पर वेब पेज कहा जाता है. वेब पेज में लिखी जाने वाली जो भाषा होती है उस भाषा को HTML के नाम से जानते हैं.

अगर आप इंटरनेट का इस्तेमाल करते है तो आप सबसे पहले एड्रेस (adress) को डालते हैं जैसे www.abcd.com एक एड्रेस है जिसमें सबसे पहले “www” लगा होता है इसे यूआरएल (URL)  या लिंक के भी नाम से जानते हैं. उसके बाद टाइटल होता है. टाइटल का अर्थ होता है साईट या यूँ कहें कि, जहां हमे जाना होती है उसका नाम. वास्तव में टाइटल भी लिंक का ही एक रूप होता है या लिंक के ही ऐसा काम करता है.

“www” एक तरह से सूचनाओं को सहेज कर इंटरनेट के माध्यम से प्रदर्शित करने का एक तरीका होता है जिसमें कई तरह के लिंक (hypertext links) या URLs आपस में जुड़े होते हैं. जिसे इन्टरनेट के माध्यम या सहायता से एक्सेस (access) किया जाता है.

वर्ल्ड वाइड वेब पर किसी वेब पन्ने को देखने की शुरुआत वेब ब्राउज़र (Web Browser) जैसे Google, Chrome, Firefox, Opera या Internet Explorer में उसका यूआरएल (URL) लिख कर किया जात है. सबसे पहले यूआरएल के सर्वर नाम वाले हिस्से को विश्व में वितरित इंटरनेट डाटा-बेस, जिसे डोमेन के नाम से भी जाना जाता है. जिसकी सहायता से आईपी पते में परिवर्तित कर दिया जाता है.