राज्यपाल ने राजभवन स्थित ‘बुद्ध प्रतिमा’ की अभ्यर्थना की…

राज्यपाल ने राजभवन स्थित ‘बुद्ध प्रतिमा’ की अभ्यर्थना की…

301
0
SHARE
मगध विश्वविद्यालय के शैक्षणिक एवं प्रशासनिक क्रियाकलापों को अत्यन्त असंतोषजनक पाते हुए इस पर अपनी अप्रसन्नता व्यक्त की एवं संबंधित अधिकारियों के विरूद्ध कार्रवाई का आदेश दिया. फोटो:-आईपीआरडी, पटना.

शनिवार को महामहिम राज्यपाल लाल जी टंडन ने ‘बुद्ध पूर्णिमा’ के सुअवसर पर राजभवन के समीप स्थित ‘बुद्ध पार्क’ में भगवान बुद्ध की प्रतिमा की पूजा-अर्चना की और उन्हें अपना नमन निवेदित किया. महामहिम राज्यपाल टंडन को बोधगया से आए भन्ते डॉ० वन्ना थारे एवं डॉ० आनंद थेरो ने भगवान बुद्ध की पूजा करायी. राज्यपाल टंडन ने भगवान बुद्ध की पूजा-अभ्यर्थना करते हुए बिहारवासियों और देशवासियों के कल्याण और समृद्धि की मंगलकामना की तथा यह विश्वास व्यक्त किया कि भगवान बुद्ध की कृपा से बिहार सहित सम्पूर्ण देश तेजी से प्रगति-पथ पर अग्रसर होगा.

राज्यपाल टंडन ने पूजा के बाद मीडिया-कर्मियों से बातें करते हुए कहा कि आज सारे विश्व में भगवान बुद्ध के अनुयायी रहते हैं. उन्होंने कहा कि भगवान बुद्ध के सत्य, अहिंसा, प्रेम और करूणा के संदेश समस्त मनष्यता के लिए प्रेरणादायी हैं. राज्यपाल ने कहा कि भगवान बुद्ध ने न केवल मनुष्य, बल्कि समस्त जीवों के प्रति करूणा और प्रेम रखने का संदेश दिया. उन्होंने पेड़-पौधे, नदी-झरने -समस्त प्राकृतिक उपादानों के प्रति निकटता का भाव रखते हुए पर्यावरण-संतुलन और आत्म-शुद्धि का भी संदेश दिया. राज्यपाल ने कहा कि भगवान भगवान बुद्ध के जीवन-दर्शन से हमें प्रेम, बंधुत्व, त्याग, विनम्रता, सहजता, सदाशयता और मनोविकारों की परिशुद्धि की सत्प्रेरणा मिलती है. उन्होंने कहा है कि, सामाजिक समता, दया, करूणा, सद्भावना, अनुभव और बुद्धि पर आधारित ज्ञान, मृदुवचन, अहिंसा और सच्चरित्रता आदि भगवान बुद्ध के संदेशों के मूल प्रेरणादायी तत्व हैं, जिनका अनुसरण मानवता के लिए परम हितकारी है.

राज्यपाल टंडन ने कहा कि विश्व की समस्त समस्याओं का समाधान बुद्ध के जीवन-दर्शन में उपलब्ध है. उन्होंने कहा कि ‘वैशाखी पूर्णिमा’ के दिन ही भगवान बुद्ध का जन्म हुआ था, उन्हें सम्यक् ज्ञान (सम्बोधि) की प्राप्ति हुई थी तथा अन्ततः वे ‘महापरिनिर्वाण’ (समाधि) भी प्राप्त करने में सफल रहे थे. भगवान बुद्ध को एक ही दिन प्राप्त इन तीन दिव्य उपलब्धियों के उपलक्ष्य में ‘बुद्ध पूर्णिमा’ आयोजित की जाती है. राज्यपाल ने इस अवसर पर उपलब्ध सभी गणमान्य जन और नागरिकों को बधाई दी. आयोजन में संयुक्त सचिव विजय कुमार सहित राज्यपाल सचिवालय के सभी वरीय अधिकारी एवं कर्मचारीगण भी उपस्थित थे.