नोवेल कोरोना वायरस…

नोवेल कोरोना वायरस…

46
0
SHARE
छींकते / खांसते समय नाक और मुंह को ढंककर रूमाल / तौलिया का उपयोग करें. फोटो:-गूगल

वर्ल्ड हेल्थ आर्गेनाइजेशन (W.H.O) ने नोवेल कोरोना वायरस (2019-nCoV)  को महामारी घोषित करते हुये अंतर्राष्ट्रीय सार्वजनिक स्वास्थ्य आपातकाल (International Public Health Emergency) घोषित कर दिया है. डब्लू०एच०ओ० के अनुसार विश्व के 51 देश इस महामारी से ग्रसित हैं.

अभी तक विश्व में नोवेल कोरोना वायरस के 83652 मामले प्रतिवेदित (Reported) हुए हैं, जिनमें से करीब 2858 लोगों की मृत्यू हो चुकी है. विश्व में कुल 24 देश चीन(78961), जापान(210),सिंगापुर(96),मलेशिया(24),ऑस्ट्रेलिया(23),वियतनाम(16),फिलिपिन(3),कम्बोडिया(1),न्यूजीलैंड(1), इटली(650), फ्रांस(38), जर्मनी(26), स्पेन(25), यू.के.(16), स्वीडेन(7), स्वीट्जरलैंड(6), ऑस्ट्रीया(4), नॉर्वे(4),ग्रीस(3),इजराईल(3),क्रोआशिया(3),फिनलैंड(2), रूस फेडरेशन(2), बेलारस(1), लिथुवानिया(1), नीदरलैंड(1), नॉर्थ मैकडोनिया(1), रोमानिया(1), बेल्जियम(1), डेनमार्क(1), इस्टोनिया(1), जॉर्जिया(1), थाईलैंड(1),भारत(3),नेपाल(1), श्रीलंका(1), ईरान(245), कुवैत(43), बहरैन(33), यू.ए.ई.(19), ईराक(7), ओमान(6), लेबानॉन(2), पाकिस्तान(2), अफगानिस्तान(1), इजिप्ट(1), अमेरिका(59), कनाडा(11), ब्राजील(1), अल्जेरिया(1), नाईजेरिया(1), इंटरनेशनल कन्वेयन्स(डायमंड प्रिसेंस)(705).

भारत में भी कोरोना वायरस से ग्रसित तीन मरीजों की जानकारी मिली है ये तीनों मरीज केरल के रहने वाले है एवं अभी इनकी हालत सामान्य है. 15 जनवरी 2020 से अभी तक कोरना वायरस ग्रसित देशों से लौटे 108 यात्रियों को Surveillance में रखा गया है.

विश्व भर में नोवेल कोरोना वायरस के प्रतिवदित मामलों को देखते हुए बिहार सरकार द्वारा की गई तैयारियां:-

  • 25 जनवरी 2020 को नोवेल कोरोना वायरस पर एडवाईजरी भेज दी गई थी. जिलों और मेडिकल कॉलेजों के लिए SOP(Standard Operating Procedure) भी उपलब्ध कराया गया है.
  • पटना एवं गया एयरपोर्ट पर जनमानस की जानकारी के लिए स्वास्थ्य चेतावनी(Health Alert) एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी किए गए एडवाईजरी को प्रदर्शित किया गया था. हवाई अड्डों पर अलगाव वार्ड(Isolation Ward) का निर्माण किया गया है. प्रभावित देशों के यात्रियों की लाइन लिस्टिंग और हवाई अड्डे के अधिकारियों के साथ समन्वय स्थापित कर आई०ई०सी० सामग्री का प्रदर्शन सुनिश्चित किया गया है.
  • कोरोना वायरस के संदर्भ में जिलाधिकारी की अध्यक्षता में सभी ग्राम पंचायत में ग्राम सभा की बैठक करने का निर्देश दिया गया है. सभी पंचायती राज सदस्य, ए०एन०एम० आंगनबाड़ी सेवक, हेल्थ केयर वर्कर को कोरोना वायरस के प्रति जागरूक किया गया है.
  • नेपाल में नोवेल कोरोना वायरस से प्रतिवेदित मरीज में इस वायरस की पूष्टि होने के कारण नेपाल से सटे सीमावर्ती जिलों पर पारगमन बिंदुओं(Transit Point) पर निगरानी बढ़ाने के लिए विशेष ध्यान दिया जा रहा है. अररिया, वैशाली, गया और नालंदा में बौद्ध स्थलों पर भी निगरानी की जा रही है.
  • सभी 38 जिलों को अलगाव और नमूना संग्रह(Isolation and Sample Collection) के लिए 09 मेडिकल कॉलेज और अस्पतालों से जोड़ा गया है। कोरोना वायरस से संबंधित गतिविधियों पर नजर रखने के लिए प्रत्येक जिले और MCH(Medical College and Hospital) में नोडल पदाधिकारी नामित किया गया है.
  • सभी होटलों में खास कर गया, वैशाली, नालंदा एवं अररिया के होटलों में एडवाईजरी जारी करते हुए लक्षणात्मक यात्रियों पर विशेष निगरानी रखने की हिदायत दी गई है.
  • जिलों को स्कूलों का उन्मुखीकरण सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है.
  • PPE(Personal Protection Equipments) Kits, मास्क, इन्फ्रारेड थर्मामीटर सभी जिलों एवं मेडिकल कॉलेजों को उपलब्ध करा दिया गया है.
  • सभी जिलों और मेडिकल कॉलेज और अस्पतालों को ग्राम सभा की बैठकों के लिए आईईसी सामग्री और टॉकिंग पॉइंट प्रदान किए गए हैं.
  • भारत-नेपाल सीमा पर टीमों का प्रशिक्षण पूरा हो गया है.
  • गया द्वारा की जाने वाली अतिरिक्त तैयारियों पर राज्य का फीडबैक गया जिले और हवाई अड्डे को भेज दिया गया है.
  • स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, भारत सरकार के साथ रिपोर्टों का दैनिक साझाकरण सुनिश्चित किया जा रहा है.
  • नेपाल से सटे 07 जिलों को कोरोना वायरस से संबंधित गतिविधियों में तेजी लाने का निर्देश दिया गया है.
  • जिला स्तर की गतिविधियों की नियमित निगरानी की जा रही है. संदेहास्पद यात्रियों को चिन्हित कर 28 दिनों के लिए Surveillance पर रखा जा रहा है.
  • इस वायरस से संबंधित अधिक जानकारी के लिए 24X7 कॉल सेंटर नं० 104 को जनमानसों के बीच जारी कर दिया गया है.

बिहार में 29-02-2020 तक नोवेल कोरोना वायरस की स्थिति:-

नेपाल के सीमावर्ती जिलों की संख्या – 07.

नेपाल के सीमावर्ती अनुमंडल की संख्या – 30.

राज्य में ग्राम पंचायतों की संख्या – 9496.

नेपाल की सीमा से लगे गाँव की संख्या – 6364.

भारत-नेपाल सीमा पर पारगमन बिंदुओं की संख्या – 49.

आइसोलेशन वार्ड में बेड की संख्या – 5 in each DH, 10-20 MCH.

आयोजित शिविरों की संख्या – 449.

पारगमन बिंदुओं पर जांच किये गये यात्रियों की संख्या – 93190.

पारगमन बिंदुओं पर रोगसूचक(लक्षणात्मक) मामलों की संख्या – 0.

निगरानी के तहत बौद्ध स्पॉट की संख्या – 06.

ग्राम सभा की बैठकों की संख्या – 3036.

उन्मुखिकरण किये गये पंचायती राज की संख्या – 4775.

उन्मुखिकरण किये गये हेल्थ वर्कर्स की संख्या –  47088.

जिलों में स्कूलों की संख्या –  96034.

उन्मुखिकरण किये गये स्कूलों की संख्या – 5733.

गया/पटना एयरपोर्ट पर जांच किये गये यात्रियों की संख्या – 16035.

गया/पटना एयरपोर्ट पर रोगसूचक(लक्षणात्मक) यात्रियों की संख्या – 0.

एकत्रित किए गए नमूनों की संख्या – 48.

कोरोना वायरस के सकारात्मक मामले – 0.

जांच के लिए नामांकित किये गये यात्रियों की संख्या – 108.

14 दिनों का निगराणी को पूरा करने वाले यात्रियों की संख्या – 26

IEC सामग्री प्रदर्शित किये जाने वाले स्थानों की संख्या – 549.

बिहार सरकार राज्य के लोगों से अपील करता है कि वे किसी भी अफवाह से घबराएं नहीं. सभी से अनुरोध है कि हमारे द्वारा जारी किये गये स्वास्थ्य सलाह का पालन करें. छींकते / खांसते समय नाक और मुंह को ढंककर रूमाल / तौलिया का उपयोग करें. हाथों को साबुन से धोते रहें. जो लोग कोरोना प्रभावित देशों से आए हैं, उन्हें घर पर ही रहना चाहिए और इस वायरस के लक्षण उनमें पाये जाने पर उन्हें घर से बाहर एवं सार्वजनिक स्थानों पर नहीं जाने की सलाह दी जाती है. लक्षणों वाले व्यक्तियों से अनुरोध किया जाता है कि वे तुरंत 104 पर कॉल करें या निकटतम सरकारी स्वास्थ्य केंद्र पर संपर्क करें.