नये कुलसचिव की नियुक्ति का आदेश दिया :- राज्यपाल

नये कुलसचिव की नियुक्ति का आदेश दिया :- राज्यपाल

340
0
SHARE
लार्ड मैकाले की पाश्चात्य शिक्षा-व्यवस्था की जगह हमें अपनी जड़ों में ही जीवंत तत्वों की खोज कर समाधान के मार्ग-तलाशने होंगे. फोटो:-आईपीआरडी, पटना.

गुरुवार को महामहिम राज्यपाल सह कुलाधिपति लाल जी टंडन ने ‘बिहार राज्य विश्वविद्यालय अधिनियम, 1976’ में सन्निहित अपनी शक्तियों का प्रयोग करते हुए उपलब्ध पैनलों पर समुचित विचारोपरान्त मगध विश्वविद्यालय, बोधगया के लिए ग्रुप कैप्टन जगत सिंह राणा तथा पूर्णिया विश्वविद्यालय, पूर्णिया के लिए ग्रुप कैप्टन मोहम्मद याकूब को कुलसचिव पद पर नियुक्त करने का आदेश दिया है. इन नियुक्तियों से संबंधित आदेश तात्कालिक प्रभाव से लागू होंगे. राज्यपाल सचिवालय ने उपर्युक्त नियुक्तियों से संबंधित अधिसूचना गुरुवार को जारी कर दी है.

ज्ञातव्य है कि मगध विश्वविद्यालय एवं पूर्णिया विश्वविद्यालय के लिए कुलसचिव के पद क्रमशः कर्नल प्रणव कुमार एवं कर्नल जीतेन्दर भारद्वाज द्वारा समर्पित त्याग-पत्रों की स्वीकृति के पश्चात् रिक्त हो गए थे, जिनके विरूद्ध आज इन पदों पर नई नियुक्तियों से संबंधित आदेश निर्गत कर दिये गये हैं.

इसी तरह राज्यपाल-सह-कुलाधिपति ने संबंधित पैनलों पर सम्यक् विचारोपरान्त राज्य के सात विश्वविद्यालयों के लिए वित्त अधिकारियों की नियुक्ति को भी अपनी स्वीकृति प्रदान कर दी है. राज्यपाल सचिवालय द्वारा संबंधित कुलपतियों को भेजे गए पत्र के राज्यपाल सचिवालय द्वारा संबंधित कुलपतियों को भेजे गए पत्र के मुताबिक विनोद कुमार – बी०आर०ए० बिहार विश्व- विद्यालय, मुजफ्फरपुर, बिजयमल प्रसाद सिंह – टी०एम० भागलपुर विश्वविद्यालय, भागलपुर, सुधीर कुमार – एल०एन० मिथिला विश्वविद्यालय, दरभंगा, केशरी विजय मिश्रा – पाटलिपुत्र विश्वविद्यालय, पटना, दीपक कुमार सिन्हा – मगध विश्वविद्यालय, बोधगया, राजकुमार चौधरी -पूर्णिया विश्वविद्यालय, पूर्णिया एवं कन्हाई रजक – एम०एम०एच० अरबी एवं फारसी विश्वविद्यालय, पटना के वित्त पदाधिकारी बनाये गये हैं. निर्धारित नियमों एवं शर्त्तों के मुताबिक संविदा आधार पर की गईं ये पुर्ननियुक्तियाँ प्रभार-ग्रहण करने की तिथि से एक वर्ष के लिए मान्य होंगी. विश्वविद्यालयों में वित्तीय अनुशासन एवं नियमितता बहाल रखने के उद्देश्य से की गई इन नियुक्तियों से सकारात्मक परिणाम की उम्मीद की जाती है.