देश-दुनिया में 21 मई का इतिहास….

देश-दुनिया में 21 मई का इतिहास….

562
0
SHARE
मोहनलाल के फिल्म गुरु को ऑस्कर के लिए भारत की आधिकारिक प्रविष्टि के रूप में सर्वश्रेष्ठ विदेशी फिल्म में नामांकन के लिए चुनी गई थीं वहीं, निर्देशक, स्क्रिप्ट लेखक आदित्य चोपड़ा अपने करियर की शुरआत मात्र 18 साल की उम्र में बतौर सहायक निर्देशक के तौर पर की थी.फोटो:-गूगल.
  • वर्ष 1857 में प्रसिद्ध विधिवेत्ता और सार्वजनिक कार्यकर्ता सर सुंदर लाल का जन्म उत्तरांचल के नैनीताल जिले के जसपुर नामक स्थान पर हुआ था.उन्होंने पहले वकालत की परीक्षा पास की और फिर कोलकाता विश्वविद्यालय से स्नातक करने के बाद वकालत करने लगे.अपनी प्रतिभा के बल पर उन्होंने इस क्षेत्र में शीघ्र ही बड़ी सफलता अर्जित कर ली। सरकार ने उन्हें सर की उपाधि दी थी.सर सुंदर लाल अवध के ज्यूडिशियल कमिश्नर और इलाहाबाद हाईकोर्ट के जज रहे.वर्ष 1916 में काशी हिंदू विश्वविद्यालय के प्रथम वाइस चांसलर बने. इस विश्वविद्यालय की स्थापना में वे मालवीय जी के बड़े सहायक थे. हिन्दू आचार-विचार में निष्ठा रखने वाले सर सुंदर लाल संवैधानिक तरीकों से देश की स्वतंत्रता के समर्थक थे.वे देश की समृद्धि के लिए औद्योगीकरण को आवश्यक मानते थे और शिक्षा प्रसार को उन्नति का साधन समझते थे.
  • वर्ष 1931 में भारत के प्रसिद्ध व्यंग्य रचनाकार शरद जोशी का जन्म मध्य प्रदेश के उज्जैन शहर में हुआ था.कुछ समय तक वो सरकारी नौकरी में रहे, फिर इन्होंने लेखन को ही आजीविका के रूप में अपना लिया. अपने समय के अनूठे व्यंग्य रचनाकार थे. अपने वक्त की सामाजिक, राजनीतिक और सांस्कृतिक विसंगतियों को उन्होंने अत्यंत पैनी निगाह से देखा और पैनी कलम से बड़ी साफगोई के साथ उन्हें सटीक शब्दों में व्यक्त किया. उन्होंने कई फ़िल्में, नाटक और टेलीविजन के कई धारावाहिक लिखे.
  • वर्ष 1960 में भारतीय अभिनेता मोहनलाल विश्वनाथ नायर का जन्म केरल के पथ्यनाम्पिथ्या जिला के एलान्थूर में विश्वनाथन नायर जो एक वकील और सरकारी कर्मचारी थे और सान्ताकुमारी, के यहाँ हुआ था.उनका परिवार बाद में तिरुवनंतपुरम के मुदावंमुगल में स्थानांतरित हो गया, जो उनकी माँ का घर था.वह स्कूल में एक सामान्य छात्र थे और कला की दुनिया की तरफ खिंचे। वह स्कूल के दौरान नाटकों में भाग लिया करते थे.छठी कक्षा में, युवा मोहनलाल अपने स्कूल में सर्वश्रेष्ठ अभिनेता चुने गए, जो पुरस्कार आम तौर पर दसवीं कक्षा के छात्रों को दिया जाता है. स्कूली शिक्षा के बाद उन्होंने अपनी बैचलर की डिग्री के लिए महात्मा गांधी कॉलेज, तिरुवनंतपुरम में दाखिला ले लिया और अभिनय का साथ जारी रखा साथ ही कई सर्वश्रेष्ठ अभिनेता पुरस्कार भी जीता. वर्ष 1977 में मोहनलाल फिल्म गुरु को ऑस्कर के लिए भारत की आधिकारिक प्रविष्टि के रूप में सर्वश्रेष्ठ विदेशी फिल्म में नामांकन के लिए चुनी गई. वर्ष 2001 में भारत सरकार ने मोहनलाल को  पद्म श्री से सम्मानित किया था.
  • वर्ष 1971 में मशहूर निर्देशक, स्क्रिप्ट लेखक आदित्य चोपड़ा का जन्म मुम्बई(महाराष्ट्र) में हुआ था. इनके पिता नाम यश चोपड़ा (फिल्म निर्देशक, फिल्म निर्माता व पटकथा लेखक) और माता का नाम पामेला चोपड़ा है.आदित्य बचपन से ही काफी शर्मीले स्वाभाव के थे, और बचपन से ही हिंदी फिल्म के निर्देशन में रूचि लेने लगे थे. आदित्य ने अपनी शुरूआती बॉम्बे स्कॉटिश स्कूल से की और ग्रेजुएशन रिझुमल कॉलेज ऑफ़ कॉमर्स से की. चोपड़ा ने अपने करियर की शुरआत महज 18 साल की उम्र में बतौर सहायक निर्देशक कर दी थी.उन्होंने अपने पिता यश चोपड़ा को कई हिट फिल्मों में असिस्ट किया, चांदनी, डर और लम्हे आदि. 05 सालों तक पिता यश को असिस्ट करने के बाद उन्होंने वर्ष 1995 में फिल्म दिल वाले दुल्हनिया निर्देशित किया.इसके बाद उन्होंने फिल्म मोहब्बतें का लेखन और निर्देशन किया।आदित्य चोपड़ा की दो शादियां हुई जिसमें पहली शादी पायल खन्ना से से हुई थी, किन्ही कारणों से इनकी शादी वर्ष 2009 में टूट गयी.इसके बाद वर्ष 2014 में अभिनेत्री रानी मुखर्जी के साथ शादी के बंधन में बंध गए.
  • वर्ष 1991 में चुनाव का प्रचार करते समय तमिल आतंकवादियों ने भारत के छठेप्रधान मंत्री राजीव गांधी की एक बम विस्फ़ोट में हत्या कर दी थी.
  • वर्ष 1994 में 43वें मिस यूनिवर्स का खिताब सुष्मिता सेन ने जीता था.
  • वर्ष 1996 में विश्व में पहली बार अंतरिक्ष में विज्ञापन फ़िल्म बनाने की घोषणा प्रसिद्ध शीतल पेय कम्पनी पेप्सी ने किया था.
  • वर्ष 1998 में 31 वर्षों तक लगातार इंडोनेशिया पर शासन करने वाले राष्ट्रपति सुहार्तों ने त्यागपत्र दिया.
  • वर्ष 2003 में विश्व के 190 से भी अधिक देशों ने तम्बाकू के ख़िलाफ़ अंतर्राष्ट्रीय संधि को जिनेवा में मंजूरी दी.
  • वर्ष 2008 में संयुक्त राष्ट्र संघ की योजना के तहत 15 देशों की वायुसेनाओं के 90 अधिकारियों का एक साझा टेबल अभ्यास हैदराबाद में प्रारम्भ हुई.
  • वर्ष 2008 में रिजर्ब बैंक ने सेंचुरियन बैंक ऑफ़ पंजाब के एचडीएफसी बैंक में विलय प्रस्ताव को मंज़ूरी दी.
  • वर्ष 2008 में भारतीय स्टेट बैंक ने कृषि क़र्ज पर रोक लगाने सम्बन्धी अपने सर्कुलर को तत्काल प्रभाव से वापस किया.
  • वर्ष 2008 में मलेशिया के पूर्व प्रधानमंत्री महातिर मोहम्मद के पुत्र दातुक मोखजानी महातिर ने सत्तारुढ़ दल यूएमएनओ से इस्तीफ़ा दिया.
  • वर्ष 2010 में उड़ीसा तट पर बंगाल की खाड़ी में भारतीय सेना के जंगी जहाज़ रणवीर से भारतीय नौसेना ने सुपरसोनिक ब्रह्मोस क्रूज मिसाइल के उर्ध्वाधर प्रक्षेपण संस्करण का सफलतापूर्वक परीक्षण किया.

 

आज 21 मई है और पुरे देश में आतंकवाद विरोधी दिवस या बलिदान दिवस मनाया जा रहा है. इसकी शुरुआत वर्ष 1991 से की गई थी. ज्ञात है कि, देश के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गॉधी तमिलनाडु के श्रीपेरूबुंदुर में चुनाव प्रचार के लिए गये थे और वहां आतंकवादीयों ने उनकी हत्‍या कर दी थी. पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी को श्रद्धांजली देने के उददेश्‍य से आतंकवाद विरोधी दिवस के रूप में मनाया जाता है. यह दिवस मनाने का मुख्य उददेश्‍य यह है कि, आतंकवाद के प्रति जन-जन को जागरूक करना और इससे होने वाली घटनाओं को रोका जा सके और आतंक- वाद से होने वाली जन-धन हानि को समाप्‍त करना. आतंकवाद विरोधी दिवस मनाने का उद्देश्य राष्ट्रीय हितों पर पड़ने वाले विपरित प्रभावों, आतंकवाद के कारण आम जनता को हो रही परेशानियों, आतंकी हिंसा से दूर रखना है. आतंकवाद से सम्‍बन्धित पूरे विश्‍व में ऐसी कई प्रकार की घटनाऐं घटी है जिससे मानव समाज को काफी आघात पहुंचा है.