देश-दुनिया में 14 मई का इतिहास…

देश-दुनिया में 14 मई का इतिहास…

487
0
SHARE
अभिनेत्री व मॉडल ज़रीन खान डॉक्टर बनना चाहती था लेकिन अभिनय में शामिल हो गई वहीं, मानुषी छिल्लर खुद भी मेडिकल की छात्रा और कुचिपुड़ी नृत्य की प्रशिक्षित डांसर हैं. फोटो:-गूगल.
  • वर्ष 1657 में शिवाजी के ज्येष्ठ पुत्र और उत्तराधिकारी शम्भाजी का जन्म पुरंदर क़िला (पुणे) महाराष्ट्र में हुआ था. 02 वर्ष की उम्र में ही संभाजी महाराज की मां का देहांत हो गया था और उनकी देखभाल उनकी दादी यानी जीजाबाई ने किया था.संभाजी महाराज कम उम्र में ही संस्कृत सहित 08 भाषाओं के जानकार थे. छत्रपति संभाजी नौ वर्ष की अवस्था में पुण्यश्लोक छत्रपती शिवाजी महाराज की प्रसिद्ध आगरा यात्रा में वे साथ गये थे. औरंगजेब के बंदीगृह से निकल, पुण्यश्लोक छत्रपती शिवाजी महाराज के महाराष्ट्र वापस लौटने पर, मुगलों से समझौते के फलस्वरूप, संभाजी मुगल सम्राट् द्वारा राजा के पद तथा पंचहजारी मंसब से विभूषित हुए. उन्होंने 14 वर्ष की उम्र में बुधभूषणम , नखशिखांत , नायिकाभेद तथा सातशातक ग्रंथों की रचना की.छत्रपति संभाजी महाराज एवं कवि कलश ने बलपूर्वक धर्म परिवर्तन कर मुसलमान बनाए गए हरसुल के ब्राह्मण गंगाधर कुलकर्णी को शुद्ध कर पुनः हिंदू धर्म में परिवर्तित करने का साहस भी दिखाया था.
  • वर्ष 1702 में इंग्लैंड और नीदरलैंड ने फ्रांस और स्पेन के विरुद्ध युद्ध की घोषणा की थी.
  • वर्ष 1892 में प्रसिद्ध स्वतंत्रता सेनानी और राजनीतिक कार्यकर्ता अरुण चन्द्र गुहा का जन्म बारीसाल (बगांल) में हुआ था. क़ानूनी शिक्षा प्राप्त करने के दौरान ही वह क्रांतिकारी गतिविधियों में सक्रिय हो गए थे. रामकृष्ण परमहंस और स्वामी विवेकानन्द के विचारों से अरुण चन्द्र बहुत प्रभावित थे. भारत की आज़ादी के बाद अरुण चन्द्र गुहा संविधान परिषद के सदस्य भी चुने गए थे. वे तीन बार वर्ष 1952, 1957 और 1962 में लोकसभा के लिए भी निर्वाचित हुए थे
  • वर्ष 1893 में प्रसिद्ध न्यायविद, अधिवक्ता और शिक्षाशास्त्री अल्लादि कृष्णास्वामी अय्यर का जन्म मद्रास (वर्तमान चेन्नई) के नेल्लौर ज़िले में एक गरीब ब्राह्मण परिवार में हुआ था.उनके पिता मंदिर के पुजारी थे और उन्होंने अपने पुत्र की शिक्षा का उचित प्रबंध किया था. अय्यर प्रसिद्ध न्यायविद, गांधीवादी, अधिवक्ता और शिक्षाशास्त्री थे. वे उदारवादी दृष्टिकोण के व्यक्ति थे. स्वतंत्रता के बाद अल्लादि कृष्णास्वामी अय्यर देश की संविधान सभा के सदस्य चुने गए. वे संविधान का प्रारूप तैयार करने वाली समिति के प्रमुख सदस्य थे.उनका दृष्टिकोण उदारवादी था. परंपरागत परिवार से संबंध होने के बाद भी उनका कहना था कि हिंदुओं से संबंधित कानूनों में सुधार होना चाहिए.
  • वर्ष 1923 में भारतीय फ़िल्मों के प्रसिद्ध निर्माता व निर्देशक मृणाल सेन का जन्म फरीदपुर नामक शहर में (जो अब बंगला देश में है) था. उन्होंने हाईस्कूल की परीक्षा उत्तीर्ण करने बाद उन्होंने शहर छोड़ दिया और कोलकाता में पढ़ने के लिये आ गये. वह भौतिक शास्त्र के विद्यार्थी थे. अपने विद्यार्थी जीवन में ही वे वह कम्युनिस्ट पार्टी के सांस्कृतिक विभाग से जुड़ गये यद्यपि वे कभी इस पार्टी के सदस्य नहीं रहे पर इप्टा से जुड़े होने के कारण वे अनेक समान विचारों वाले सांस्कृतिक रुचि के लोगों के परिचय में आ गए.मृणाल सेन ने अपनी पहली फिल्म रातभोर बनाई थी उसके बाद उन्होंने अगली फिल्म नील आकाशेर नीचे ने उनको स्थानीय पहचान दी. जबकि, उनकी तीसरी फिल्म बाइशे श्रावण ने उनको अन्तर्राष्ट्रीय प्रसिद्धि दिलाई. उन्होंने ऐसी फिल्म बनाई जो मध्यमवर्गीय समाज में पनपते असंतोष को आवाज़ दी. मृणाल सेन को भारत सरकार द्वारा वर्ष 1981 में कला के क्षेत्र में पद्म भूषण एवं वर्ष 2005 में दादा साहब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित किया था.
  • वर्ष 1923 में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के अध्यक्ष एन०जी० चन्दावरकर का निधन हुआ था.
  • वर्ष 1943 में अंग्रेज़ी शासन के दौरान एक जमींदार, सरकारी ठेकेदार, स्वतंत्रता संग्राम सेनानी एवं राजनेता अल्ला बख़्श का निधन शिकारपुर (पाकिस्तान) में हुआ था.
  • वर्ष 1944 में ब्रिटिश सैनिकों ने कोहिमा पर कब्जा किया था.
  • वर्ष 1948 में इजराइल ने अपनी आजादी की घोषणा की थी.
  • वर्ष 1963 में डॉक्टर रघुवीर प्रख्यात विद्वान् तथा राजनीतिक नेता का निधन हुआ था.
  • वर्ष 1963 में संयुक्त राष्ट्र का 111वां सदस्य कुवैत बना.
  • वर्ष 1978 में प्रसिद्ध नाटककार जगदीशचन्द्र माथुर का निधन हुआ था.
  • वर्ष 1981 में नासा ने स्पेश व्हिकल S-192 लांच किया था.
  • वर्ष 1984 में फेसबुक के जनक मार्क एलियट ज़करबर्ग का जन्म व्हाइट प्लेन्स, न्यू यॉर्क, संयुक्त राज्य अमेरिका में हुआ था. ज़करबर्ग मिडिल स्कूल के दौरान प्रोग्रम्मिंग और कंप्यूटर प्रोग्राम विकसित कर रहे थे. हाई स्कूल के दौरान फिलिप्स एक्सेटर अकादेमी में भाग लिया था. अपने पिता के ऑफिस के कर्मचारियों की मदद करने के लिए उसने एक प्रोग्राम भी बनाया, था उसने एक खेल रिस्क का संस्करण और सिनाप्स नामक एक संगीत वादक बनाया जो सुनने वाले की आदतों को सीखने के लिए कृत्रिम बुद्धि का इस्तेमाल किया जाता है. ज़ुकेरबर्ग ने अपने हार्वर्ड छात्रालय के कमरे से 04 फरवरी 2004 को फेसबुक का प्रारंभ किया था.
  • वर्ष 1987 में हिंदी फिल्मों की अभिनेत्री व मॉडल ज़रीन खान का जन्म मुंबई में मुस्लिम पश्तुन (जिसे पठान या अफगान भी कहा जाता है)परिवार में हुआ था. जरीन कई भाषाओं जैसे हिंदी, उर्दू, अंग्रेजी और मराठी, और कुछ पश्तो बोलती है. वो डॉक्टर बनना चाहती था लेकिन अभिनय में शामिल हो गई. उन्होंने अपने अभिनय कैरियर की शुरुआत वर्ष 2010 में वीर फ़िल्म में सलमान खान के साथ की थी.उन्होंने हिंदी फिल्मों के के अलावा तमिल और पंजाबी फिल्मों में भी काम किया है.
  • वर्ष 1997 में भारतीय मॉडल व सौन्दर्य प्रतियोगिता की विजेता मानुषी छिल्लर का जन्म सोनिपत (हरियाणा) में एक जाट परिवार में हुआ था.उनके पिता डॉ० मित्र बासु छिल्लर रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) में वैज्ञानिक हैं, तो वहीं उनकी माता डॉ० नीलम छिल्लर मानव व्यवहार और संबद्ध विज्ञान संस्थान (आईएचबीऐएस) में स्नायु-रसायन विभाग की विभागाध्यक्ष हैं.मानुषी छिल्लर खुद भी मेडिकल की छात्रा हैं.मानुषी छिल्लर कुचिपुड़ी नृत्य की प्रशिक्षित डांसर भी है साथ ही उन्हें अभिनय, चित्रकला, और गीत गाने का भी शौक है. विश्व सुन्दरी वर्ष 2017 प्रतियोगिता के दौरान मानुषी ने शीर्ष मॉडल, पीपुल्स चॉइस, और मल्टीमीडिया प्रतियोगिताओं में सेमीफाइनल में जगह बनाईं, इसके साथ ही उन्हें ब्यूटी बिद ए परपज प्रतियोगिता की सहविजेता भी घोषित की गई.
  • वर्ष 1998 में भारतीय मॉडल और बाल अभिनेत्री तरुणी सचदेव का जन्म मुंबई में एक उद्योगपति के घर में हुआ था. उनके पिता का नाम हरेश सचदेव और माता का नाम गीता सचदेव है. तरुनी ने रासना, कोलगेट, आईसीआईसीआई बैंक, रिलायंस मोबाइल, एलजी, कॉफी बाइट, गोल्ड विजेता, शक्ति मसाला और स्टार फ्लश ड्रीम्स जैसे उत्पादों के लिए कई टेलीविजन विज्ञापनों में अभिनय किया. तरुनी ने वर्ष 2009 में हिंदी फिल्म पा में अमिताभ बच्चन, अभिषेक बच्चन और विद्या बालन के साथ काम किया.
  • वर्ष 2001 में भारत और मलेशिया के बीच 07 समझौते हुए थे.
  • वर्ष 2010 में ज्ञानपीठ पुरस्कार से सम्मानित मराठी कवि वृंदा करंदीकर का निधन हुआ था.
  • वर्ष 2011 में किसान नेता महेन्द्र सिंह टिकैत का निधन उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर जिले के सिसौली गाँव में हुआ था.