ज्ञान की बातें (30)…

ज्ञान की बातें (30)…

16
0
SHARE
फोटो:-गूगल.
  1. प्रकाश वर्ष: प्रकाश द्वारा निर्वात में 1 वर्ष में चली गई दूरी = 9.46 × 1015 मीटर,
  2. खगोलीय मात्रक: पृथ्वी तथा सूर्य के बीच की औसत दूरी = 1.496 × 1011 मीटर,
  3. पारसेक: यह दूरी का मात्रक है. (1) पारसेक = (3.26 प्रकाश वर्ष) या 3.08 × 1016 मीटर,
  4. ज्योति तीव्रता का मात्रक: ज्योति तीव्रता का मात्रक केन्डिला है.
  5. समय का मात्रक: SI पद्धति में समय का मात्रक सेकण्ड होता है. एक मध्याह के बीच की अवधि को सौर दिन     कहा जाता है तथा पूरे वर्ष के सौर दिनों के माध्य को माध्य सौर दिन कहते हैं.
  6. माध्य सौर दिवस 1/86400 भाग एक सेकण्ड के बराबर होता है.
  7. 1 पिको सेकण्ड = 10-12 सेकण्ड,
  8. 1 नैनो सेकण्ड = 10 9 सेकण्ड,
  9. 1 माइक्रो सेकण्ड = 10-6 सेकण्ड,
  10. 1 मिली सेकण्ड = 10 3 सेकण्ड,
  11. 1 माइक्रोन = 10-6 मीटर,
  12. 1 मिलीमाइक्रोन = 10-9 मीटर,
  13. 1 आंग्स्ट्राम मात्रक = 10-10 मीटर,
  14. 1 फर्मी = 10-15 मीटर
  15. चाल = दूरी/समय; चाल का मात्रक मी. / सेकेण्ड,
  16. त्वरण = वेग परिवर्तन/समय,
  17. त्वरण का मात्रक = मीटर/सेकण्ड/सेकण्ड = मीटर/सेकण्ड2
  18. बल = दव्यमान x त्वरण;,
  19. बल का मात्रक = किग्रा. × मी. / सेकेण्ड2 = न्यूटन,
  20. कार्य = बल x विस्थापन;
  21. कार्य का मात्रक = न्यूटन x मीटर = किग्रा.मी.2/सेकेण्ड2,
  22. कार्य के मात्रक को जूल भी कहते हैं. जूल, (01.) जूल = 1 न्यूटन मीटरगुरुत्वीय स्थितिज ऊर्जा,
  23. गुरुत्वीय स्थितिज ऊर्जा का मात्रक = किग्रा.मी.2/सेकेण्ड2,
  24. क्षेत्रफल = लम्बाई × चौड़ाई; क्षेत्रफल का मात्रक = मीटर x मीटर = मीटर2
  25. घनत्व = द्रव्यमान/आयतन; घनत्व का मात्रक = किग्रा./मी.3
  26. SI पद्धति में द्रव्यमान का मात्रक किलोग्राम है.
  • 1 टेराग्राम = 109 किग्रा,
  • 1 पिकोग्राम = 10-15 किग्रा,
  • 1 जीगाग्राम = 106 किग्रा,
  • 1 मिलीग्राम = 10 6 किग्रा,
  • 1 मेगाग्राम = 1 टन = 103 किग्रा = 10 क्विंटल,
  • 1 क्विंटल = 102 किग्रा,
  • 1 डेसीग्राम = 10-4 किग्रा,
  • 1 स्लग = 10.57 किग्रा.
  1. आयतन = लम्बाई × चौड़ाई × ऊंचाई,
  2. आयतन का मात्रक = मीटर x मीटर x मीटर = मीटर3,
  3. वेग = विस्थापन/समय,
  4. वेग का मात्रक = मीटर/सेकण्ड,
  5. शक्ति = कार्य/समय;
  6. शक्ति का मात्रक = जूल/सेकेण्ड शक्ति के मात्रक को ‘वाट’ भी कहते हैं.(1)1वाट=1 जूल/सेकेण्ड.
  7. संवेग = द्रव्यमान × वेग;
  8. संवेग का मात्रक = किग्रा. मी./सेकण्ड,
  9. गतिज ऊर्जा = 1/2 × द्रव्यमान × वेग2,
  10. गतिज ऊर्जा का मात्रक = किग्रा. मी.2/सेकण्ड2,
  11. G.S. पद्धति में लम्बाई, द्रव्यमान तथा समय के मात्रक Centimentre-Gran-second या C.G.S. पद्धति कहते हैं, इसे फ्रेंच या मीट्रिक पद्धति भी कहते हैं.
  12. P.S. पद्धति में लम्बाई, द्रव्यमान और समय के मात्रक क्रमश: फुट, पाउण्ड तथा सेकेण्ड होते हैं, इसे ब्रिटिश पद्धति भी कहते हैं.
  13. K.S. पद्धति में लम्बाई, द्रव्यमान और समय के मात्रक क्रमश: मीटर, किलोग्राम और सेकण्ड होते हैं. यह भी C.G.S. पद्धति का ही एक रूप है और इस पद्धति के मात्रक व्यवहारिक मात्रक होते हैं इसीलिए, पिछले कई दशकों से वैज्ञानिक मापों में इस पद्धति का प्रयोग किया जाता है.
  14. अंतर्राष्ट्रीय पद्धति अथवा SI वर्ष 1967 में अंतर्राष्ट्रीय माप तौल के महाधिवेशन में SI को स्वीकार किया गया, जिसका पूरा नाम है de Systeme Internationale d’Unites“. SI में ‘S’ का अर्थ होता है System और ‘Iका अर्थ होता है Internalionale. इसीलिए SI पद्धति के स्थान पर केवल SI लिखा जाता है. वर्तमान समय में इसी पद्धति का प्रयोग किया जाता है. इस पद्धति में 07 मूल मात्रक और 02 सम्पूरक मात्रक होते हैं.