जिला स्तरीय मिशन गुणवत्ता शिक्षा समिति की बैठक…

जिला स्तरीय मिशन गुणवत्ता शिक्षा समिति की बैठक…

186
0
SHARE
बच्चों की अधिक भागीदारी हेतु प्रखंड स्तर पर सभी प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी,प्रखंड एवं संकुल संसाधन सेवी एवं गणित विषय में अभिरुचि रखनेवाले वाले शिक्षक को प्रेरित किया जाएगा.

सोमवार को जिला शिक्षा पदाधिकारी पटना के निदेशानुसार जिला स्तरीय मिशन गुणवत्ता शिक्षा समिति की बैठक समग्र शिक्षा कार्यालय पटना मे सदस्यों के साथ बैठक आहुत की गई.

बैठक में मुखदेव सिंह तत्कालीन राज्य कार्यक्रम पदाधिकारी शिक्षा पदाधिकारी ने बताया कि, बच्चों को पढ़ाने से ज्यादा अभ्यास की आवश्यकता है. वहीं, नीरज कुमार जिला कार्यक्रम पदाधिकारी शिक्षा विभाग पटना ने कहा कि बच्चों की अधिक भागीदारी हेतु प्रखंड स्तर पर सभी प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी,प्रखंड एवं संकुल संसाधन सेवी एवं गणित  विषय में अभिरुचि रखनेवाले वाले शिक्षक को प्रेरित किया जाएगा. डॉ० भोला सिंह केन्द्रिय विधालय दानापुर ने कहा कि बैक टु बेसिक, मिनिमम लेवल आफ लर्निंग एवं सिलिप प्रोग्राम्स पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है.

डॉ० विजय कुमार संयोजक सह संयुक्त सचिव बिहार मैथमेटिकल सोसाइटी के द्वारा बताया गया कि सोसायटी के तत्वावधान मे आयोजित टैलेंट सर्च टेस्ट इन मैथमेटिकस ओलम्पियाड मे वर्ग 06-09 लिए छात्र एवं छात्राएँ को भाग लेंगे एवं आवेदन करने की तिथि 12 सितंबर 2019, प्रशिक्षण 13-20  सितम्बर तक कालेज आफ कामर्स आर्ट्स एण्ड साइन्स पटना में  समिति के सदस्यों एवं शिक्षकों के द्वारा दिया जायेगा. डॉ० कुमार ने बताया कि, परीक्षा का आयोजन 22 सितंबर 2019 को जिलों में आयोजित किए जाएंगें. डॉ० कुमार ने बताया कि, गणित विषय पर सेमिनार का आयोजन लिट्रा वैली विधालय पटना में किया जायेगा. इसके लिए  प्रबंधक से सहमति ली गयी हैं.

डॉ० कुमार ने बताया कि, सेमिनारी एवं प्रतियोगिता परीक्षा के आधार पर प्रतिभा को खोजकर गणितीय अभिरुचि जागृत कर  प्रशिझण देकर कम्पीटिशन के लिये तैयार किया जायेगा. अभिभावकों,छात्र-छात्राएँ, शिक्षकों एवं शिक्षा के प्रति अभिरुचि रखनेवाले समाजसेवी के द्वारा शिक्षा जागरूकता अभियान चलाया जाएगा. उन्होंने कहा कि, शिक्षा से लाभवंचित बच्चों को विद्यालय से जोड़ने का भी प्रयास किया जायेगा.

इस बैठक में मोखतार सिंह संयोजक, सह संयोजक आशुतोष कुमार श्रीवास्तव, उपसंयोजक डॉ० अरुण दयाल एवं अनुपमा सिंहा के साथ गुड्डू कुमार,संजय कुमार, सुबोध कुमार, एच० पी० वर्मा, सूर्यकांत गुप्ता एवं सभी प्रखंडों के गणित के शिक्षक उपस्थित थे.