जिला स्तरीय मिशन गुणवत्ता शिक्षा समिति का गठन…

जिला स्तरीय मिशन गुणवत्ता शिक्षा समिति का गठन…

335
0
SHARE
सभी जिलों मे बच्चों एवं शिक्षक को गणित के प्रति अभिरुचि जागृत करना.

बुधवार को निदेशक ,माध्यमिक शिक्षा बिहार सरकार पटना  के पत्रांक  276   दिनांक 21-05-2019 के आलोक में  जिला शिक्षा पदाधिकारी पटना के  पत्रांक 2394 एवं  दिनांक 17-08-2019  के द्वारा जिला शिक्षा पदाधिकारी ज्योतिे कुमार अध्यक्षता मे जिला स्तरीय मिशन गुणवत्ता शिक्षा समिति का गठन किया गया है. उक्त समिति मे उपाध्यक्ष नीरज कुमार डी० पी० ओ० ( समग्र शिक्षा) संयोजक मोखतार सिंह ,सह संयोजक आशुतोष कुमार श्रीवास्तव उप संयोजक अनुपमा सिंह एवं डॉ० अरुण दयाल के साथ ही उच्च स्तरीय समिति मुखदेव सिंह तत्कालीन राज्य कार्यकम पदाधिकारी शिक्षा विभाग बिहार, माध्यमिक शिक्षक संघ सुधीर कुमार सिंह एवं प्राथमिक शिक्षक संगठन के भोला पासवान ,पंकज कुमार, समाइल अहमद तथा प्रो० अरविंद कुमार सिन्हा,प्रो० एम० के० मधुकर को नामित किया गया है.

डॉ० विजय कुमार संयोजक सह संयुक्त सचिव बिहार मैथमेटिकल सोसाइटी के द्वारा बताया गया कि सोसाइटी के माध्यम से सभी जिलों मे बच्चों एवं शिक्षक को गणित के प्रति अभिरुचि जागृत करना एवं फोबिया से दूर करने का उद्देश्य है. निदेशानुसार समिति के द्वारा निम्नवत कार्य संपादित किये जायेंगे.

  1. बिहार हार मैथमेटिकल सोसायटी के तत्वावधान मे आयोजित टैलेंट सर्च टेस्ट इन मैथमेटिकस ओलम्पियाड मे वर्ग 06-07 के लिए टीएसटीएम जूनियर ओलम्पियाड वर्ग 08-09 के लिए टीएसटीएम सीनियर ओलम्पियाड मे छात्र एवं छात्राएँ को भाग लेने के लिए सुनिश्चित किया जाना.
  2. टीएसटीएम ओलंपियाड के आवेदक का प्रशिक्षण 13 सितम्बर से 20 सितम्बर तक गणित के शिक्षक के द्वारा दिया जाना.
  3. परीक्षा का आयोजन 22 सितम्बर 2019 जिला मे आयोजित किये जाने की तैयारी किया जाना.
  4. शिक्षा के लिए Access(शिक्षा तक पहुंच) Quality (गुणवत्ता)और Equity (सबको शिक्षा मे समानता) के लिए प्रेरित करना.
  5. गुणवत्तायुक्त शिक्षा के विकास एवं गणितीय गणितीय अभिरुचि में अभिवृद्धि हेतु सेमिनार का आयोजित किया जाना.
  6. छात्रों में छिपी हुई प्रतिभा को खोजकर गणितीय अभिरुचि जागृत कराना है एवं प्रशिक्षण देकर कम्पीटिशन के लिये तैयार करना.
  7. अभिभावकों, छात्र-छात्राएँ, शिक्षकों एवं शिक्षा के प्रति अभिरुचि रखनेवाले समाजसेवी के द्वारा शिक्षा जागरूकता अभियान चलाया जाना.
  8. शिक्षक / संस्थान एवं गणमान्य सोसाइटी की सदस्यता ग्रहण करना.
  9. शिक्षा, रिसर्च, अनुसंधान, वैज्ञानिक सोच एवं अन्य गतिविधियों के कार्य सम्पादित किया जाना.
  10. शिक्षा से लाभवंचित बच्चे को विद्यालय से जोड़ने का प्रयास करना.
  11. विद्यालय स्तर पर स्वच्छता, बच्चों का सतत मूल्यांकन, अभिभावकों एवं शिक्षक छात्र इनटरकशन, विजन, लक्ष्य, उद्देश्य एवं मिशन मोड में कार्य करना.