केला (Bananaa)…

केला (Bananaa)…

9
0
SHARE
जिसका अर्थ होता है-“बुद्धिमान व्यक्ति का फल”. फोटो:-गूगल.

आमतौर प्राय: केला (Bananaa) का प्रयोग हर उम्र के लोग करते है. कुछ लोग इसे सब्जी के रूप में तो कुछ लोग इसे फल या उससे बनने वाले कई इनर्जी ड्रिंक के रूप में प्रयोग करते है. खासकर भारतीय घरों में प्राय: शुभ-मंगल कार्यों में केले के पत्ते या उसके फल का प्रयोग करते हैं. क्या आप जानते हैं कि, ‘केला’ की उत्पत्ति कहाँ हुई और इसके वैज्ञानिक नाम क्या हैं..?

  • केला के बारे में कहा जाता है कि, इसकी खेती उष्णकटिबंधीय क्षेत्रों में की जाती है और सबसे पहले यह “पपुआ न्यू गिनी” में उपजाया गया था. केले के पौधें मूसा के परिवार के हैं और इसका वैज्ञानिक नाम मूसा सेपिनटम(Musa Sapientum) है. जिसका अर्थ होता है-“बुद्धिमान व्यक्ति का फल”.
  • बताते चलें कि, हर साल लगभग एक लाख करोड़ केले खाए जाते हैं जो कि इसे गेहूँ,चावल और मक्का के बाद चौथा सबसे बड़ा खेती का उत्पाद बनाता है.
  • आमतौर पर प्राय: इसे सुबह के समय नाश्ते के तौर पर खाया जाता है.
  • केलों उत्पादन के मामले मेंभारत पहले स्थान पर आता है और यहाँ पर पूरे विश्व का लगभग 28 प्रतिशत केलों का उत्पादन किया जाता है.
  • प्रति व्यक्ति ज्यादा केला खाने के मामले मेंअफ्रीका का युगान्डा पहले नंबर पर आता है.
  • अगर आपको मच्छर काट ले तो उस जगह पर केले का छिलका रगड़ देने से दर्द में तुरंत आराम मिल जाता है.
  • सिर्फ दो केला खाने से हमें 90 मिनट तक लगातार बिना रुके काम करने की ऊर्जा मिल जाती है.
  • खून की कमी को दूर करने के लिए केला प्रयोग किया जाता है.
  • केले के छिलकों को जूतों पर रगड़ने से जूते चमक उठते हैं.
  • प्रतिदिन केला खाने से डिप्रेशन के रोगियों को आराम देता है.
  • पेट में होने वाली कब्ज की परेशानी से राहत देता है केला.
  • पका केला खाने से लूज मोशन की समस्या से आराम मिलता है.
  • केले का सेवन खून को पतला कर धमनियों में रक्त का संचालन दुरुस्त करता है.