College

अर्थशास्त्र से संबंधित(16).

Different Concepts of National Income…

Total National Product (GNP):- In an economy, the monetary value of all final goods and services produced in a year is calculated without double counting. This calculation is done at market prevailing prices.

Total Household Products (GDP): – The monetary value of goods and services produced in a country over a period of one year is called domestic product. The income earned by foreigners is subtracted from this value and the income received from abroad is added.

Formula:- Total Domestic Product (GDP) = Total National Product – (Export – Import Price)

Net National Product (NNP):- The remaining from reducing depreciation from the total national product is called net national product.

Sources:-  Net National Product = Total National Product – Depreciation.

Net Domestic Product (NDP):- In a country for a period of one year, if the gross monetary value of the goods and services produced by the country’s own means is reduced, the residual expenditure which is reduced by the depreciation expenditure or the depreciation expenditure is net net domestic product. It is said.

Formula:- Net Household Products (NDP) = Total Household Products – Liability Expenditure.

Net National Income at Instrument Cost (NNIFC):- The amount that comes from deducting indirect tax and adding subsidy from the net national product at market prices is called pure national product at instrument cost. This is called the national income of the country.

Sources:- National Income = Net National Excise – Indirect Tax + Economic Assistance.

Personal Income:- The total income of all individuals or families in a country over a period of one year is actually called personal income. Under this, we include wages, salary, interest, rent and dividend etc.

To extract personal income from national income…

Sources:- Personal Income = National Income – (Social Security Deduction + Profit of Joint Capital Companies – Transfer Payment.

Disposable Income: – All the personal income that individuals and families have is not spent on consumption, a part of the income has to be paid to the government in the form of personal taxes and the remaining part remains. Is, consumption is useful.

Formula:- Consumable Income = Personal Income – Personal Tax

But it is not necessary that consumable income should be completely spent on consumption. A person who saves some part of his income is called savings.

Formula:- Consumables Income = Consumables + Savings.

More about this source textSource text required for additional translation information

———————————  ——————————————   ——————–

राष्ट्रीय  आय की विभिन्न संकल्पनाएं…

कुल राष्ट्रीय उत्पाद (GNP) :- एक अर्थव्यवस्था में, एक वर्ष में पैदा सभी अन्तिम वस्तुओं तथा सेवाओं का मौद्रिक मूल्य है जिसकी गणना, दोहरी गणना के बिना की जाती है. यह गणना बाजारी  प्रचलित कीमतों पर की जाती है.

कुल घरेलू उत्पाद (GDP) :- किसी देश में एक वर्ष की अवधि में जिन वस्तुओं तथा सेवाओं का उत्पादन किया जाता है, उनके मौद्रिक मूल्य को ही घरेलू उत्पाद कहते है. इस मूल्य में से विदेशियों द्वारा अर्जित आय को घटा दिया जाता हैं और विदेशों से प्राप्त आय को जोड़ दिया जाता है.

सूत्र :- कुल धरेलू उत्पाद (GDP)  =  कुल राष्ट्रीय उत्पाद – (निर्यात – आयात मूल्य)

शुद्ध राष्ट्रीय  उत्पाद (NNP) :- कुल राष्ट्रीय उत्पाद में से मूल्यहृस को घटा देने से शेष बचता है उसे शुद्ध राष्ट्रीय उत्पाद कहते है.

सूत्र:- शुद्ध राष्ट्रीय उत्पाद = कुल राष्ट्रीय उत्पाद – मूल्यहृस.

शुद्ध धरेलू उत्पाद (NDP) :- किसी देश में एक वर्ष की अवधि में देश के अपने ही साधनों द्वारा उत्पादित वस्तुओं तथा सेवाओं के कुल मौद्रिक मूल्य में से यदि घिसावट व्यय अथवा मूलयहृास व्यय घटा दिया तो जो शेष बचता है, उसे शुद्ध धरेलू उत्पाद कहते है।

सूत्र :- शुद्ध धरेलू उत्पाद (NDP)  = कुल धरेलू उत्पाद – घिसावट व्यय.

साधन लागत पर शुद्ध राष्ट्रीय आय (NNIFC) :- बाजार मूल्यों पर विशुद्ध राष्ट्रीय उत्पाद में से परोक्ष कर घटाने व आर्थिक सहायता जोड़ने से जो राशि आती है, वह साधन लागत पर विशुद्ध राष्ट्रीय उत्पाद कहलाती है। इसे ही देश की राष्ट्रीय आय कहा जाता है.

सूत्र :- राष्ट्रीय आय = शुद्ध राष्ट्रीय उत्पाद – परोक्ष कर + आर्थिक सहायता.

वैयक्तिक आय (Personal Income)  :- एक वर्ष की अवधि में एक देश के सभी व्यक्ति या परिवार जितनी आय वास्तव में प्राप्त करते है, उन सभी आयों के योग को वैयक्तिक आय कहते है. इसके अन्र्तगत हम मजदूरी, वेतन, ब्याज, लगान तथा लाभांश आदि को सम्मिलित करते है.

राष्ट्रीय आय में से वैयक्ति आय निकालने के लिए… 

सूत्र :- वैयक्तिक आय = राष्ट्रीय आय – (सामाजिक सुरक्षा कटौती + संयुक्त पूंजी वाली कम्पनिया के लाभ – हस्तान्तरित भुगतान.

उपभोग आय (Disposable Income) :- व्यक्ति तथा परिवारों के पास जो वैयक्तिक आय होती है, वह सब उपभोग कार्यो पर व्यय नहीं की जाती, आय का एक भाग वैयक्तिक करों के रूप में सरकार को भुगतान करना होता है और जो भाग शेष बचा रहता है, उपभोग के काम आता है.

सूत्र :- उपभोग्य आय = वैयक्तिक आय – वैयक्तिक कर

परन्तु यह आवश्यक नहीं है कि उपभोग्य आय पूरी तरह से उपभोग पर व्यय कर दी जाए. जो व्यक्ति अपनी आय का कुछ भाग बचा लेते है उसे बचत कहा जाता है.

सूत्र :- उपभोग्य आय = उपभोग्य + बचत.

Related Articles

Back to top button